हिंदू स्वाभिमान संघर्ष समिति ने देवबंद विधायक को फ्लाईओवर को लेकर सौंपा ज्ञापन

हिंदू स्वाभिमान संघर्ष समिति ने देवबंद विधायक को फ्लाईओवर को लेकर सौंपा ज्ञापन


देवबंद (गौरव सिंघल)। हिंदूवादी स्वाभिमान संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने बुधवार को देवबंद विधायक कुंवर बृजेश सिंह को दिए ज्ञापन में एस.एच 59 फ्लाईओवर मे बरती जा रही भारी अनियमितता और इसके विरोध मे 18 जून को होने वाले आंदोलन की जानकारी दी। समिति के संयोजक विकास त्यागी और अध्यक्ष प्रवेन्द्र सिंह के नेतृत्व मे दर्जनो लोगो ने विधायक बृजेश सिंह से मिलकर समिति के निर्णयो से अवगत कराया और उन्हे ज्ञापन सौंपकर रास्ते से मस्जिद, मदरसो एवं कब्रिस्तान की दीवार तत्काल हटवाए जाने की मांग की है।
विधायक ब्रिजेश सिंह ने समिति के पदाधिकारियो को भरोसा दिया कि उनकी मांग जायज है और इनके मांगो के संबंध में उन्होंने पूर्व मे भी मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री समेत प्रशासन को अवगत करा दिया था। उन्होंने कहा कि वह इस संबंध मे दोबारा से सरकार को इसके बारे मे अवगत कराने का काम करेंगे।
विधायक बृजेश सिंह को दिए ज्ञापन मे समिति के पदाधिकारियो ने कहा कि मुजफ्फरनगर-सहारनपुर राजमार्ग एस.एच 59 पर फोरलेन रोड का कार्य लगभग पूरा होने ही वाला है। उन्होंने बताया कि इस मार्ग के बीच में महत्वपूर्ण एवं ऐतिहासिक महत्व का नगर देवबंद पड़ता है। देवबंद नगर में 4 किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर बनाया गया है। जिसके नीचे दोनो ओर एस.एच 59 व सर्विस रोड बनाई जा रही है। हाईवे निर्माण कर रही कंपनी एपको द्वारा संपूर्ण कार्य भारी अनियमितता, भ्रष्टाचार तथा निर्धारित मानको के अनुरूप नही किया जा रहा है। इस अनियमितता पूर्ण कार्य में उपसा एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारी भी शामिल है।
हिंदूवादी स्वाभिमान संघर्ष समिति के पदाधिकारियो ने विधायक कुंवर बृजेश सिंह को बताया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा शुरू में निर्धारित मानको के अनुरूप सड़क केंद्र के दोनो ओर 75-75 फुट पर निशान लगाए गए थे और जनता को बताया गया था कि जितनी भूमि सड़क की सरकारी होगी उसके बाद की भूमि पर मुआवजा देकर सड़क की चौडाई बढाई जाएगी। जिसके बाद लोगो ने अपनी निजी भूमि पर बने अपने-अपने निर्माण को हटा लिया लेकिन तीनो विभागो की मिलीभगत से मार्गो को इतना संकीर्ण और घुमावदार बनाते हुए निर्माण कराया जा रहा है। जिससे सड़क का स्वरूप पूरी तरह से बिगड़ गया है। हर वक्त सड़क पर जाम की स्थिति बनी रहती है।
पुलिस के नीचे सड़को के किनारे दोनो ओर नाला तैयार किया गया है उसके बाद करीब 7 मीटर चौड़ी सर्विस रोड़ बननी चाहिए थी उसको भी नही बनाया गया है। मंगलौर चौकी से वीआईपी गेस्ट हाउस तक के बीच के मार्ग पर हर वर्ष 20-25 दिन का विशाल मां देवी मेला लगता है। वह जगह भी संकीर्ण कर दी गई है। कुछ मस्जिदो, कब्रिस्तानो और मदरसो पर रियायत बरतते हुए उन्हे एक तरफ सड़क घेरकर सड़क के बीच दीवार बनाने का मौका दे दिया गया। ऐसा लगता है कि तीनो विभागो की मिली भगत से कम से कम 200 करोड़ रूपए का घोटाला हुआ है। हिंदू स्वाभिमान संघर्ष समिति के पदाधिकारियो ने देवबंद विधायक बृजेश सिंह से इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषियो के खिलाफ कार्रवाई कराने की मांग की। समिति के पदाधिकारियो ने विधायक से कहा कि फ्लाईओवर के केंद्र बिंदू से सड़क के दोनो ओर मानक के अनुरूप 75-75 फुट फोरलेन रोड एवं सर्विस रोड निर्माण हो। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर देवबंद नगर और क्षेत्र के लोगो मे रोष व्याप्त है। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर हिंदूवादी संगठनो ने प्रदर्शन करते हुए स्थानीय प्रशासन को ज्ञापन भी दिए है। लेकिन कोई कार्रवाई अमल मे नही लाई गई है।
विधायक बृजेश सिंह को ज्ञापन देने वालो में हिंदूवादी स्वाभिमान संघर्ष समिति के संयोजक विकास त्यागी, सह संयोजक पंकज त्यागी, अध्यक्ष प्रवेन्द्र चौधरी, शिवकुमार राणा , पंकज त्यागी ,कुलदीप सैनी ,राजकृष्ण रोड़ ,सुधीर भारद्वाज, प्रधान विनय त्यागी ,सरदार बालेन्द्र सिंह, अमित चौधरी, विपिन गर्ग, राजवीर चौधरी ,संदीप राणा ,राजकुमार, भाजपा मंडल अध्यक्ष उपेन्द्र सिंह, आशु, राजबीर सिंह, प्रधान राज कृष्ण रोड़, रामकुमार प्रधान सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share it
Top