सम्मान समारोह में सँगतो को किया अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित

सम्मान समारोह में सँगतो को किया अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित


देवबंद (गौरव सिंघल)। गुरुद्वारा श्री गुरुनानक सभा मे कार्यक्रम आयोजित कर साहिब श्री गुरुनानक देव जी के 550 वे प्रकाश पर्व पर सहयोग करने वाली संगतों को अभिनंदन पत्र देकर समान्नित किया गया। संगतों ने 550 दीपक जलाकर गुरु नानक देव जी की शिक्षाओं पर चलने का प्रण लिया।

गुरुद्वारा साहिब में बीती रात आयोजित कार्यक्रम में ज्ञानी गुरप्रीत सिंघ (उत्तराखंड) ने कहा कि गुरु नानक देव जी ने नाम जपो, कीरत करो, वंड छको का संदेश देकर पूरी मानव जाति का मार्गदर्शन किया।उन्होंने दुनिया में 38 हजार मील की पैदल यात्रा कर सरबत के भले का संदेश दिया। उन्होंने कलयुग में भटक रहे जीवों को शांति व सुकून से जीवन जीने का जो मार्ग दिखाया वह सदियों तक हमारा मार्गदर्शन करता रहेगा। कार्यक्रम में अपने घर पर प्रभातफेरी बुलवाने व नगर कीर्तन में स्टॉल लगाकर लंगर की सेवा करने वाली संगतों एवं प्रभातफेरी व नगर कीर्तन संयोजक कमेटियों को गुरुद्वारा कमेटी की ओर से अभिनन्दन पत्र देकर समान्नित किया गया। इससे पूर्व ज्ञानी गुरप्रीत सिंह, ज्ञानी नितिन सिंघ, चंद्रदीप सिंघ, बलदीप सिंघ, चन्नी बेदी, जितेश बतरा आदि ने गुरवाणी गायन कर सँगतो को निहाल किया। संचालन गुरजोत सिंघ सेठी ने किया। संगतों ने 550 वे प्रकाश पर्व पर संगतों ने 550 दीपक जलाकर गुरूनानक देव जी के शिक्षाओ व उनके बताए मार्ग पर चलने का प्रण लिया। कार्यक्रम में कुलभूषन छाबड़ा, सरदार इंद्रपाल सिंह सेठी, श्याम लाल भारती, दिलबाग सिंह उप्पल, डॉ गुरदीप सिंह सोढ़ी, गुरविंदर सिंह छाबड़ा, बनारसी दास, सचिन छाबड़ा, राजेश छाबड़ा, बलदीप सिंह, जोगेंद्र सिंह बेदी, सन्नी-मन्नी सेठी, चन्नी बेदी, जसवंत सिंह, अजय निझारा, राजेश अनेजा, हैप्पी रतड़ा, बलविंदर सिंह, अमृत सिंह कपूर, डॉ कांता सिंह, राजीव कक्कड़ आदि मौजूद थे।

Share it
Top