फ्लाईओवर हादसा: कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री पर मुकदमा की मांग

फ्लाईओवर हादसा: कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री पर मुकदमा की मांग


वाराणसी। धर्म नगरी काशी में दिल दहला देने वाले फ्लाईओवर हादसे को लेकर नगर की सियासत भी गरमाने लगी है। गुरुवार को हादसे के लिए सूबे के मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री सहित स्थानीय भाजपा नेताओं को जिम्मेदार ठहरा कांग्रेसियों ने सिगरा थाने पर जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन और थाने के घेराव के कार्यकर्ताओं ने सीएम और डिप्टी सीएम के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए लिखित तहरीर दी। थाना प्रभारी ने कांग्रेस नेताओं से तहरीर लेकर पूर्व मुकदमे की कॉपी में उसे सम्मलित कराया। और उसकी एक कॉपी पर मोहर लगाकर पार्टी के कार्यकर्ताओं को दे दिया।
इस दौरान जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने कहा कि दुखद घटना से काशी को एक कलंकित दाग लग गया है। सेतु निगम ने कार्यदायी एजेंसी को कार्य पूरा करने के लिए 31 दिसंबर 2018 तक का समय दिया था। सरकार परिवर्तित होते ही मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री के साथ आला अधिकारी विगत 1 माह में 19 बार फ्लाईओवर चालू करने के लिए दबाब बना रहे है। इसके लिए 30 जून तक का समय भी निर्धारित किया गया है। ताकि जल्द से जल्द फ्लाईओवर का उद्घाटन प्रधानमंत्री से कराया जा सके । इसी जल्दबाजी में काम कराने की वजह से न तो रूट डायवर्जन किया गया और न ही निर्माण स्थल साइट पर सुरक्षा का इंतजाम हुआ जिसके चलते हृदय विदारक हादसा हो गया।
यहां प्रदर्शन के बाद कांग्रेसी सीधे कचहरी स्थित अम्बेडकर पार्क में पहुंचे। जहां उन्होंने कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनने के विरोध में धरना प्रदर्शन किया और वहां कांग्रेस के नेताओं के धरना प्रदर्शन का समर्थन कर केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।
इसमें पूर्व विधायक अजय राय, पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी, प्रजानाथ शर्मा, सीताराम केशरी, नागेंद्र पाठक, असलम, प्रिंस राय खगोलन ,राकेश राठौड़ सतीश चौबे आदि शामिल रहे।

Share it
Share it
Share it
Top