प्रतापगढ़ में भ्रष्टाचार के मामले में आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा

प्रतापगढ़ में भ्रष्टाचार के मामले में आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश में प्रतापगढ़ के कोतवाली नगर पुलिस ने भृष्टाचार अधिनियम के तहत आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया है।
पुलिस महानिरीक्षक लोक शिकायत इलाहाबाद जोन के आदेश पर बरेली जिले की भ्रष्टाचार निवारण इकाई के विवेचक सुरेन्द्र सिंह ने कल रात दारोगा सुभाष चन्द्र, अवकाश प्राप्त दारोगा परशुराम तथा छह सिपाही विजेंद्र राय, जाहिद, अनीश तिवारी, हरिशंकर मिश्र, देवेन्द्र बहादुर, रामचन्द्र गौतम के खिलाफ यह मुकदमा दर्ज कराया।
पुलिस सूत्रों ने आज यहां बताया कि प्रतापगढ़ शहर के पुराना मालगोदाम रोड पर रहने वाली शकीला बेगम ने 24 फ़रवरी 2011 को पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में शिकायती पत्र भेजकर बताया था कि छह नवम्बर 2009 को आरोपित पुलिसकर्मी उसके घर में घुसकर उसके बेटे अहमद हुसैन तथा नाती बबलू को जमकर मारापीटा।
इसके बाद कोतवाली ले जाकर फर्जी तरीके से नशीली 500 टेबलेट की बरामदगी दिखाकर जेल भेजने की धमकी दी और रिहा करने के लिए 20 हजार रूपये की मांग की। रुपया नहीं देने पर दोनो को जेल भेज दिया गया।
शकीला के अनुसार उसने दो दिन पहले ही पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर उसने बताया था कि कोतवाली पुलिस उसके परिवार के लोगों को फ़ंसाने की कोशिश कर रही है।
जांच में दोषी पाये जाने पर सभी आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की गयी। आरोपित पुलिसकर्मी पहले प्रतापगढ़ जिले में ही तैनात थे तथा इस समय उनकी तैनाती अलग-अलग जिलों में है।

Share it
Share it
Share it
Top