राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार कोविंद की जीत के लिये उनके पैतृक गांव परौंख में हो रही पूजा अर्चना

राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार कोविंद की जीत के लिये उनके पैतृक गांव परौंख में हो रही पूजा अर्चना

कानपुर देहात । राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के उत्तर प्रदेश में कानपुर देहात के पैतृक गांव परौंख में उनकी जीत के लिये कल शाम से हवन एवं पूजा की जा रही है।
राष्ट्रपति चुनाव का नतीजा कल घोषित किया जायेगा। राष्ट्रपति पद के लिए गत 17 जुलाई को वोट डाले गये थे। वोटों की गणना कल नई दिल्ली में की जायेगी। कोविंद की सीधी टक्कर विरोधी दलों की सयुंक्त उम्मीदवार मीरा कुमार से है। कोविंद का परिवार एवं रिश्तेदार दिल्ली चले चले गये हैं।
उनके राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने के दिन से ही पूरे गांव में खुशी का माहौल है। बुजुर्ग लोग गांव के बेटे की जीत के लिये पथरा देवी मंदिर में पूजा और अनुष्ठान कर रहे हैं।
मतदान के दिन से गांव के युवा खुशी मना रहे हैं। पूरे गांव में खुशियां मनाई जा रही हैै। गांव में गत 17 जुलाई को वोटिंग के दिन से ही हारमोनियम, ढोलक और भजन कीर्तन से गुंजायमान है। चारों ओर से संगीत की आवाजें अा रही हैं।
कोविंद के बचपन के मित्र एवं स्थानीय ब्लाक प्रमुख जसवंत सिंह ने कहा " हम ईश्वर से उनकी जीत की कामना कर रहे है। हमें पूरी उम्मीद है कि कोविंद ही देश के राष्ट्रपति बनेंगे।
यह पूरे गांव के लिये बडे सम्मान की बात होगी और हमारे लिये यह सबसे बडे त्यौहार का दिन होगा। " ब्लाक प्रमुख ने कहा कि कोविंद राष्ट्रपति का चुनाव जीतने के बाद शीघ्र ही अपने गांव में लोगों के साथ खुशियां बांटने आयेंगे।
कोविंद के भतीजे अनिल कुमार ने बताया कि जीत के बाद गांव में एक भव्य समारोह का आयोजन किया जायेगा। कुमार ने कहा कि कोविंद के राष्ट्रपति भवन में प्रवेश को लेकर पूरा क्षेत्र रोमांचित है।
अभी से यहां हर तरफ खुशी की लहर है। डेरापुर गांव निवासी सुरेश ने बताया कि पूरे गांव में कल तक पूजा अर्चना का दौर जारी रहेगा। अभी से पूरे गांव में खुशी का माहौल बना है।
कोविंद की कानपुर देहात के झिंझक इलाके निवासी भाभी विद्यावती ने कहा कि ईश्वर का सबसे बडा आशीर्वाद होगा कि उनका देवर और बिहार के पूर्व राज्यपाल देश के राष्ट्रपति पद संभालेंगे। इससे और खुशी का पल क्या हो सकता है।
इस पल का पूरे परिवार को इंतजार है। एेसा ही दृश्य उद्योग नगरी कानपुर के आसपास दिखायी दे रहा है। कई स्थानों पर 24 घंटे पूजा अर्चना हो रही है।
कानपुर के वैभव लक्ष्मी माता मंदिर के अनूप कपूर ने बताया कि कोविंद की जीत और स्वस्थ्य रहने के लिये 24 घंटे पूजा अर्चना एवं हवन का आयोजन किया है।उनकी जीत के लिए हर वर्ग दुआ मांग रहा है।
कोविंद की जीत के लिये मतदान के दिन कन्याओं ने व्रत रखा तो मुस्लिमों ने मस्जिद और मदरसों में दुआएं मांगीं। वहीं, ग्रामीणों ने मतगणना तक जगह-जगह अखंड रामायण का पाठ कराने का फैसला किया है।

Share it
Share it
Share it
Top