जब मुख्य न्यायाधीश ने महाधिवक्ता से कहा, बहस नहीं कर पा रहे है सरकारी वकील

जब मुख्य न्यायाधीश ने महाधिवक्ता से कहा, बहस नहीं कर पा रहे है सरकारी वकील

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश में नवनियुक्त सरकारी वकीलो की जिरह से अंसतुष्ट इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश ने महाअधिवक्ता को तलब कर उनकी अदालत में अपर महाअधिवक्ता की तैनाती करने को कहा है।
दरअसल, मुख्य न्यायाधीश की पीठ ने मुकदमो में सरकार का पक्ष नही रख पा रहे सरकारी वकीलो की शिकायत के लिए एडवोकेट जनरल राघवेन्द्र सिंह को बुलाया।
मुख्य न्यायाधीश डी बी भोसले ने महाअधिवक्ता से कहा " मेरी कोर्ट मे सरकार की तरफ से कोई सहयोग नही मिल पा रहा है, आप यहाँ कोई सीनियर अपर महाधिवक्ता को लगाइए ताकि कोर्ट काम कर सके।
भोसले की इस शिकायत पर महाधिवक्ता ने कहा कि वह आज से अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल की तैनाती मुख्य न्यायाधीश की कोर्ट मे करेंगे। न्याय विभाग के सूत्रों के अनुसार कमोवेश यही हाल हर न्यायालय मे सरकारी वकीलो का हो रहा है।
लगभग हर अदालत सरकार की तरफ से बहस न कर पा सकने वाले वकीलों को लेकर नाराज है। न्यायाधीश अभिनव उपाध्याय ने तो चार अपर महाधिवक्ताओ को अदालत मे तलब कर काम नही कर पा रहे सरकारी वकीलो की शिकायत की। ऐसी ही शिकायते न्यायाधीश पी के एस बघेल की अदालत से भी मिल रही है।

Share it
Share it
Share it
Top