लखनऊ में डकैती के बाद दो बहनों की गला दबाकर हत्या, सवालों के घेरे में राजधानी पुलिस

लखनऊ में डकैती के बाद दो बहनों की गला दबाकर हत्या, सवालों के घेरे में राजधानी पुलिस


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज थानाक्षेत्र स्थित कुर्सी रोड पर रहने वाली दो बहनों की रविवार को दिनदहाड़े गला दबाकर निर्मम हत्या कर दी गई। बिखरे सामान व घटनास्थल से मिले साक्ष्य के आधार पर डकैती के बाद महिलाआें की हत्या की बात सामने आई। घटना की जानकारी पर आईजी, जोन एसएसपी खुद मौके पर पहुंचकर मामले की तहकीकात कर खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच को लगाया है।
गुडम्बा थानाक्षेत्र स्थित कुर्सी रोड बजरंग बिहार के पास रहने वाले बद्री प्रसाद की दो बेटियां केसर श्रीवास्तव उर्फ जुग्गुन (59) संदल श्रीवास्तव (45) जीवनधारा कॉन्वेंट कॉलेज में अकेले रहती हैं। मृतका की भतीजी रोली ने बताया कि वह स्वयं गोमतीनगर स्थित एक कंपनी में काम करती है। जबकि बड़ी दीदी ऋचा श्रीवास्तव दिल्ली में रहती है तो चाचा फैजाबाद रहते हैं। रोली के मुताबिक बुआ अपने पति से करीब 20 साल से अलग रह रही थी। वहीं जीविका चलाने के लिए अन्य कमरों को उन्होंने किराये पर दे रखा था।
भतीजी का कहना है कि पड़ोसी अभिषेक ने उन्हें बताया कि उनकी बुआओं की हत्या कर दी गई है और शव बिस्तर पर पड़ा हुआ है। धटना की जानकारी होते ही ऋचा परिवार संग घटनास्थल पर पहुंची तो बिस्तर पर बुआओं का शव देखकर उसके होश उड़ गए।
डबल मर्डर की सूचना मिलते ही आईजी रेंज जयनारायण सिंह, एसएसपी दीपक कुमार, एएसपी ट्रांसगोमती, सीओ सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। साथ ही, एसओ अखिलेश पाण्डेय भी फारेंसिक टीम व डॉग स्क्वायड को लेकर पहुंचे। घटनास्थल की गहनता से जांच कर टीम ने साक्ष्य जुटाये। वहीं इस मामले में एसएसपी ने बताया कि अभी तक तहकीकात में जो साक्ष्य मिले हैं। उससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि लूटपाट करने आये बदमाशों के विरोध करने पर बहनों की निर्मम हत्या की गई है। हत्यारा कोई भी हो जल्द ही हत्या का खुलासा कर दिया जायेगा।
हत्या के पीछे करीबी
राजधानी में जिस प्रकार दो बहनों की दिनदहाड़े हत्या हो गई है, उसको लेकर एसएसपी का कहना है कि डबल मर्डर मामले में कोई करीबी है, जिसे सब कुछ पता था। इस हत्याकांड का खुलासे के लिए पूछताछ के लिए अभी कुछ लोगों को उठाया गया है।
सवालों के घेरे में राजधानी पुलिस
प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जिस प्रकार हत्या, डकैती, लूट की घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। उससे कानून का राज कायम करने का दावा करने वाली राजधानी पुलिस जनता के सवालों से घिर रही हैं।

Share it
Share it
Share it
Top