जौनपुर में चेक बाउंस होने पर आरोपी को दो वर्ष की कैद और सात लाख रुपये जुर्माना

जौनपुर में चेक बाउंस होने पर आरोपी को दो वर्ष की कैद और सात लाख रुपये जुर्माना

जौनपुर। उत्तर प्रदेश में जौनपुर की एक अदालत ने चेक बाउंस होने पर आरोपी को दो वर्ष का कारावास और सात लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनायी, जिसमें से तीन लाख 50 हजार रुपये वादी को देने का आदेश हुआ।
अभियोजन पक्ष के अनुसार दीवानी न्यायालय के अधिवक्ता बृजभूषण शुक्ला ने अदालत में एन आई एक्ट के तहत मुकदमा किया था कि पचहटिया, लाइन बाजार निवासी महेन्द्र ने उनसे करीब 15 लाख रुपए उधार लिए थे।
जिसमें से वह 11.50 लाख रूपये दे चुका और 3.50 लाख रुपए बकाया था। 14 जून 2013 को उसने डेढ़ लाख का चेक एवं 10 मार्च 2014 को दो लाख रुपए का चेक परिवादी को दिया जिसे उन्होंने बैंक में जमा किया। बैंक से रिपोर्ट आई कि महेन्द्र के खाते में अपर्याप्त धनराशि है। उन्होंने आरोपी महेंद्र को नोटिस दिया, इसके बाद अदालत में परिवाद दाखिल किया ।
सुनवाई और साक्ष्यों के आधार पर अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वितीय लोकेश वरुण ने कल आरोपी महेंद्र को दोषी पाते हुए दो वर्ष का कारावास और सात लाख रुपये जुर्माना की सजा सुनायी। जिसमे से 3.50 लाख रुपए वादी को देने का आदेश हुआ।

Share it
Share it
Share it
Top