कलयुगी बेटे ने मां की गला घोंटकर की हत्या

कलयुगी बेटे ने मां की गला घोंटकर की हत्या


फर्रुखाबाद। कायमगंज कोतवाली क्षेत्र में सोमवार को कलयुगी पुत्र ने अपनी विधवा मां की गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारे बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

कोतवाली क्षेत्र के गांव लखनपुर निवासी विद्या देवी(60) पत्नी स्वर्गीय जय सिंह के पांच बेटे हैं। मझला बेटा धनपाल नशा करने का आदी है। धनपाल अपनी मां पर जमीन का बंटवारा करने का दबाव बना रहा था जबकि उसकी मां बंटवारा नहीं करना चाहती थी। इससे नाराज होकर वह दिल्ली चला गया। वहां अपनी पत्नी को भी साथ ले गया। कुछ दिन बाद वह पत्नी को दिल्ली में छोड़कर गांव आया और भाई ब्रजपाल के साथ रहने लगा। विद्यावती बड़े पुत्र राजा उर्फ राजेश्वर के पास रहती थी। आज जब महिला घर से बाहर निकली थी तब आरोपित ने अपनी मां को पकड़ा और उनकी साड़ी से गला घोंट दिया। वारदात को अंजाम दे रहे आरोपित धनपाल को लोगों ने देख लिया, जिसकी सूचना मृतका के अन्य बेटों को दी गई। आनन-फानन में राजा अन्य लोगों के साथ मौके पर पहुंचा लेकिन तब तक मां की मौत हो चुकी थी।

घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे कोतवाल जय प्रकाश शर्मा ने मामले की जांच-पड़ताल करते हुए हत्यारे धनपाल को गिरफ्तार कर लिया।

कोतवाल ने बताया कि धनपाल जमीन का बंटवारा कराकर बेचना चाहता था। उसकी मां इस बजह से बंटवारा नहीं कर रही थी। इसी विवाद के चलते आज उसने अपनी मां की हत्या कर दी। अभी उन्हें तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। मृतका के बड़े पुत्र राजा ने बताया कि धनपाल ने किसी के उकसाने पर यह कदम उठाया होगा।


Share it
Top