प्रयागराज: डाक्टर का अपहरण करके भाग रहे दो अपराधी पुलिस मुठभेड़ में घायल

प्रयागराज: डाक्टर का अपहरण करके भाग रहे दो अपराधी पुलिस मुठभेड़ में घायल


प्रयागराज। डाक्टर का अपहरण करके भाग रहे दो अपराधी होलागढ़ थाना क्षेत्र के दहिया किला के समीप रविवार की भोर हुई मुठभेड़ में पुलिस की गोली घायल हो गए। घायल अपराधियों को स्वरूपरानी नेहरू चिकित्साल में भर्ती कराया गया है। अपहृत डाक्टर को सकुशल बरामद करके पुलिस ने उनके परिवार के लोगों को सौंप दिया है।

पुलिस अधीक्षक गंगापार नरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि प्रतापगढ़ के कुण्डा बछरौली निवासी डाॅक्टर चन्द्रगुप्त मौर्य की होलागढ़ के दहिंयावा बाजार में क्लीनिक है। शनिवार की शाम डाॅक्टर मौर्य अपनी क्लीनिक बन्द करके कार से घर जा रहे थे, तभी अपराधियों ने उनका अपहरण कर लिया। जब परिवार के लोगों से डाक्टर का सम्पर्क टूट गया तो वे परेशान हो गए। परिजनों ने डाक्टर के गायब होने की सूचना पुलिस को दी। चिकित्सक की तलाश में पुलिस अधीक्षक गंगापार सहित आलाधिकारी एवं क्राइम ब्रांच सक्रिय हो गई। प्रतापगढ़ सहित अन्य जिलों की पुलिस को भी सक्रिय रहने की सूचना अधिकारियों ने दी। इस बीच अपराधी चिकित्सक के साले को फोन करके पांच लाख की फिरौती के लिए मांग करने लगे। इस पर पुलिस अपराधियों का लोकेशन लेते हुए पीछे लग गई।

होलागढ़ के दहिया किला के पास चिकित्सक की कार दिखाई दी जिसे पुलिस ने रूकने का इशारा किया लेकिन अपराधियों ने कार को तेज कर दिया। इस पर पुलिस ने घेराबन्दी शुरू कर दी। इस पर कार में सवार अपराधी पुलिस पर गोली चलाने लगे। पुलिस के घेरने पर अपराधी अपहृत चिकित्सक और उसकी कार छोड़कर भागने लगे। पुलिस की जवाबी फायरिंग के दौरान गोली लगने से सकरा थाना बाघराय प्रतापगढ़ निवासी अपराधी नीलेश कुमार व कमासिन थाना बाघराय प्रतापगढ़ निवासी हेमन्त तिवारी घायल हो गए। पुलिस ने तत्काल दोनों अपराधियों को स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया और सकुशल बरामद हुए चिकित्सक चन्द्रगुप्त मौर्य को उनके परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस अधीक्षक गंगापार नरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि अस्पताल में भर्ती अपराधियों के खिलाफ विधिक कार्रवाई करते हुए जेल भेजा जाएगा। उक्त अपराधी पांच लाख की फिरौती फोन से मांग रहे थे जिसके जरिए सुराग मिल पाया।


Share it
Top