सहारनपुर : बारिश से खिले किसानों के चेहरे, धान रोपाई की तैयारियाँ, गन्ना एवं खड़ी फसलों, फल-सब्जी, बागों को होगा लाभ

सहारनपुर : बारिश से खिले किसानों के चेहरे, धान रोपाई की तैयारियाँ, गन्ना एवं खड़ी फसलों, फल-सब्जी, बागों को होगा लाभ


सहारनपुर (गौरव सिंघल)। गुरुवार को हुई बारिश ने किसानों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी है, वहीं तापमान गिरने से मौसम भी सुहाना हो गया। कृषि विज्ञान केंद्र के प्रभारी डा. इंद्र कुमार कुशवाहा के मुताबिक पानी की कमी के कारण धान की पौध सूख रही थी। पौध के लिए पानी नीचे ही नहीं जरूरी है, बल्कि उसके लिए पानी की फुहारें भी बहुत जरुरी है।

कुशवाहा ने बताया कि पानी की बौछारें पड़ने से खेतों में खड़ी धान की पौध को बहुत ही लाभ होगा और किसान अब धान की रोपाई की तैयारियां शुरू कर देंगे। जबरदस्त गर्मी पड़ने से किसान धान की रोपाई की तैयारियां नहीं शुरू कर पा रहा था। कृषि वैज्ञानिक कुशवाहा ने कहा कि हल्की बौछारों के बीच मौसम विभाग का अनुमान है कि यह सिलसिला दो-तीन दिन तक लगातार जारी रहने वाला है। खास बात यह है कि हल्की बूंदाबांदी वाला पानी जमीन के नीचे चला जाता है और भूमि के गिरते जलस्तर को रोकने का काम करता है। उनके मुताबिक तेज बारिश का पानी बह जाता है उसका लाभ ना तो किसानों और ना ही जमीन को मिल पाता है। कुशवाहा ने बताया कि खेतों में खड़ी फसलों को, बागों को, गन्ने को, फल-सब्जियों को इस बारिश से बहुत ही लाभ होने वाला है। किसान खरीफ की फसलों की बुआई और रोपाई अब शुरू कर सकेगा। बूंदाबांदी के इस खुशगवार मौसम को देखकर ह्दय कवि अभिषेक सिरोही ने अपने मनोभाव यूं व्यक्त किए- कुछ तो चाहतें होंगी इन बारिश की बूंदों की भी। वरना कौन गिरता है इस धधकती जमीं पर आसमां तक पहुंचने के बाद।।

Share it
Top