मुख्यमंत्री योगी ने गोरक्षनाथ मंदिर में योग शिविर का किया समापन

मुख्यमंत्री योगी ने गोरक्षनाथ मंदिर में योग शिविर का किया समापन

गोरखपुर। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को राजभवन लखनऊ में योग करने के बाद अपने गृह जनपद गोरखपुर में विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे। उन्होंने गोरक्षनाथ मंदिर में योग शिविर और शैक्षिक शिविर समापन कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने योग की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए योग को समाज जोड़ने का सशक्त माध्यम बताया। उन्होंने कहा कि वास्तव में हमारी ऋषि परंपरा ही हमें आगे बढ़ा सकती है और योग हमारी ऋषि परंपरा का एक अभिन्न अंग है। मनुष्य जीवन योग के लिए बना है न कि रोग के लिए। मुख्यमंत्री ने महाराणा प्रताप संस्थान के शिक्षकों से अपील की कि वे छात्रों को योग के महत्व के बारे में और वातावरण को स्वच्छ रखने के तरीके भी बताएं।

गोरखनाथ मंदिर में आज रात्रि विश्राम के बाद वह कल 10 से 12 बजे के बीच मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में रहेंगे। यहां मुख्यमंत्री 'नवाचारी किसान सम्मेलन' का उद्घाटन भी करेंगे। दोपहर 12:30 बजे वह बुढिय़ा माई मंदिर जाएंगे और वहां इंटरलॉकिंग सड़क का लोकार्पण करेंगे। इसी क्रम में वह मंदिर के पोखरे में जल संरक्षण अभियान के अंतर्गत श्रमदान कर सफाई कार्य की शुरुआत करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ कल दोपहर एक बजे बीआरडी मेडिकल कॉलेज जाएंगे, जहां वह गोरखपुर-बस्ती मंडल के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। बैठक में दोनों मंडलों के मंडलायुक्त व सभी जिलों के जिलाधिकारी भी शामिल होंगे। दोपहर बाद दो बजे वह गोरखनाथ मंदिर आएंगे। शाम 4 बजे के करीब वाराणसी के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।

वाराणसी में उनका शनिवार शाम को सर्किट हाउस में बैठक का कार्यक्रम है। इसके बाद वह वहां रात्रि विश्राम करेंगे। रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में विकास कार्य की समीक्षा करने के बाद करीब दस बजे जौनपुर प्रस्थान करेंगे। जौनपुर में कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद दोपहर में लखनऊ प्रस्थान करेंगे।


Share it
Top