पिता की करतूत से परेशान पुत्री ने जहर खाकर दी जान

पिता की करतूत से परेशान पुत्री ने जहर खाकर दी जान


फर्रुखाबाद। मेरापुर थाना क्षेत्र में पिता की करतूत से आजिज पुत्री ने जहर खा लिया। रविवार को उसकी मौत हो गई। थाना क्षेत्र के ग्राम सिलसंडा निवासी सना (20) पुत्री दौलत शेर कल्लू यादव के आम के बाग की रखवाली करती थी। पिता-पुत्री इस समय दोनों आम के बाग में ही रहते थे। गांव के लोग बताते हैं पिता ने बेटी का सौदा 70 हजार रुपये में कर लिया था। खरीददार शनिवार की शाम कल्लू यादव के आम के बाग में चार पहिया वाहन लेकर सना को ले जाने के लिए आ गए थे। उसे जब अपने पिता की करतूत का पता चला तो उसने आम को पकाने में प्रयोग किए जाने वाले जहर कार्बेट को खा लिया। हालत बिगड़ने पर सना को कायमगंज के सामुदायक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

वहां के डॉक्टरों ने सना की हालत देखते हुए उसे लोहिया अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। इसके बाद परिजनों ने उसे एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया। वहां के डॉक्टर ने उसे रविवार की सुबह उसकी हालत गम्भीर देखते हुए इलाज करने से मना कर दिया और लोहिया अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। परिजन उसे लोहिया अस्पताल न ले जाकर घर ले जाने लगे तो रास्ते में सना की मौत हो गई। इस संबंध में दौलत शेर से जब बातचीत की गई तो उसने बेटी को बेचने का आरोप निराधार बताया। उसने बताया कि बेटी ने गलती आम पकाने वाली दवा खा ली है। जिससे उसकी मौत हो गई। अब वह अपनी बेटी का पोस्टमार्टम नहीं कराना चाहता है।

मेरापुर के इंचार्ज थानाध्यक्ष दिनेश चंद्र ने बताया कि उन्हें इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है। मामले की जानकारी कराई जा रही है। यदि मामला इस तरह का पाया गया तो सना के पिता तथा इस मामले में शामिल सभी के बिरुद्ध कार्रवाई की जायेगी।

Share it
Top