कानपुर: बिल्हौर में सेवानिवृत्त दारोगा के बेटे की गोली मारकर हत्या

कानपुर: बिल्हौर में सेवानिवृत्त दारोगा के बेटे की गोली मारकर हत्या


कानपुर। बिल्हौर थानाक्षेत्र के नानामऊ तिराहे के पास प्रतियोगी परीक्षा (एसएससी) की तैयारी कर रहे छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई। डायल 100 की सूचना पर पहुंची पुलिस उसे हैलट अस्पताल ले गयी जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

औरेया निवासी सेवानिवृत्त दारोगा विजय सिंह का बेटा अभिषेक सिंह (19) कानपुर के काकादेव स्थित किराये के मकान में रहकर एसएससी की तैयारी कर रहा था। अभिषेक अपने पिता विजय सिंह का इकलौता बेटा था। छात्र गुरुवार की रात अपने तीन दोस्तों के साथ बाइक से बिल्हौर गया था। बिल्हौर के नानामऊ तिराहे के पास एक बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने उसकी बाइक के आगे अपनी बाइक लगाकर रोक ली और गोली मार दी। गोली लगते ही छात्र सड़क पर गिर गया। इस दौरान घटना से घबराये छात्र के साथी मौके से भाग निकले। राहगीरों ने सड़क पर छात्र को लहूलुहान पड़ा देख मामले की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंचकर पुलिस छात्र को इलाज के लिए हैलट अस्पताल ले गयी जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतक के परिजनों को जानकारी देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

झगड़े के बाद हुई गोली मारकर हत्या

बिल्हौर थाना प्रभारी ज्ञान सिंह ने शुक्रवार को बताया कि घटनास्थल के आस-पास लोगों से पूछताछ के दौरान पता चला है कि छात्र व उसके तीन साथी अलग बाइक से थे। उन्हांने बताया कि छात्र का पहले तीन दोस्तो से किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। घटना के बाद तीनों दोस्त फरार है। पुलिस छात्र के दोस्तों के तलाश शुरू कर दी है।

रुम पार्टनर से पुलिस करेगी पूछताछ

पिता विजय सिंह से मिली जानकारी मुताबिक अभिषेक काकादेव में रहने वाले दोस्त के मकान में रहकर एसएससी की तैयारी कर रहा था। काकादेव में रहने वाला दोस्त छात्र का बहुत करीबी थी। पुलिस मृतक के तीन दोस्तों के बारे पता लगाने के लिए पुलिस काकादेव में रहने वाले दोस्त से पूछताछ करेगी।


Share it
Top