मुठभेड़ में डी-53 गैंग का इनामी अपराधी आदिल गिरफ्तार

मुठभेड़ में डी-53 गैंग का इनामी अपराधी आदिल गिरफ्तार

कानपुर। जनपद की चकेरी थाना पुलिस ने स्वॉट टीम के साथ बदमाशों से हुई मुठभेड़ में एक अपराधी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्त डी-53 गैंग का सरगना व 25 हजार का इनामी है। उस पर हत्या, लूट, गैंगस्टर समेत तीन दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। मुठभेड़ के दौरान उसका साथी भाग निकला, जिसकी तलाश में पुलिस की टीमें लग गई हैं।

पुलिस अधीक्षक राजकुमार अग्रवाल ने मंगलवार को बताया कि चकेरी इंस्पेक्टर रणजीत रॉय पुलिस बल व स्वॉट टीम की साथ छप्पन भोग चौराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। तभी भोर के समय स्कूटी सवार दो व्यक्ति सुजातगंज की तरफ से आते दिखाई दिये। पुलिस को देख दोनों स्कूटी मोड़कर सुजातगंज की तरफ भागने लगे। शक के आधार पर पुलिस टहम के साथ इंस्पेक्टर ने पीछा करते हुए सूचना वायरलेस से कन्ट्रोल रुम को दी गयी।

वायरलेस से सूचना मिलते ही उन्हें घेरने के लिए तुरंत चौकी इंचार्ज श्यामनगर आ गये। सिंघानिया स्कूल मोड़ के पास स्थिति हनुमान मंदिर के सामने से चौकी इंचार्ज को आता देख संदिग्ध युवक स्कूटी मोड़ने लगे तभी जल्दबाजी में अनियंत्रित होकर गिर पडे़। पुलिस से दोनों तरफ से घिरता देख युवकों ने फायरिंग शुरु कर दी। पुलिस टीम ने गोलीबारी का जबाव दिया। जिसमें एक बदमाश के दाहिने पैर में गोली जा लगी और घायल होकर गिर गया। इस बीच उसका साथी भाग निकला। घायल बदमाश को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पकड़ा गया अभियुक्त डी-53 गैंग का सरगना आदिल उस्तान पुत्र यूनुस कंघी मोहाल थाना बजरिया निवासी निकला।

एसपी पूर्वी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी बेहद शातिर है और उस पर 25 हजार का इनाम व थाना बाबूपुरवा से हिस्ट्रीशीटर अपराधी भी है। उसके खिलाफ जनपद के विभिन्न थानों में हत्या, लूट, गैंगस्टर आदि के लगभग तीन दर्जन मुकदमें पंजीकृत हैं। पकड़े गये इनामी बदमाश ने भागे हुये साथी का नाम बलराम बताया गया। घायल बदमाश के कब्जे से एक पिस्टल 32 बोर, दो जिंदा कारतूस 32 बोर, चार खोखा कारतूस 32 बोर, एक स्कूटी बिना नम्बर बरामद हुई है। घायल बदमाश को पुलिस अभिरक्षा में कांशीराम अस्पताल में उपचार कराते हुए उसके साथी की धरपकड़ के साथ ही कार्यवाही की जा रही है।


Share it
Top