दरोगा की पिस्टल लेकर भागे दो बदमाश पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

दरोगा की पिस्टल लेकर भागे दो बदमाश पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार


कानपुर। जनपद में लूट की वारदात को अंजाम देकर भाग रहे तीन बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद रविवार को माल बरामदगी के लिए उनके बताये स्थान पर ले गयी। वापस आते समय दो बदमाश दरोगा की पिस्टल छीनकर भाग निकले। पुलिस ने पीछा करते हुए उन्हें मुठभेड़ के बाद धर दबोचा। दोनों बदमाशों के दाहिने पैर पर गोली लगी है। उनका इलाज पुलिस अभिरक्षा में चल रहा है।

पुलिस अधीक्षक पूर्वी राजकुमार अग्रवाल ने रविवार को बताया कि शनिवार की देर शाम लूट की सूचना मिली। सूचनाकर्ता फतेहपुर निवासी अच्छेलाल ने बताया कि वह एक पिकअप में कानपुर से बिंदकी जा रहा था। चकेरी थानाक्षेत्र के मंगला विहार के पास पिकअप सवार बदमाशों ने तमंचा दिखाकर लूट कर ली और उसे चलती पिकअप से फेंक दिया। लूट के बाद बदमाश इलाहाबाद की ओर भाग निकले।

सूचना मिलते ही चौकी प्रभारी रामादेवी व चौकी प्रभारी अहिरवां ने पीछा कर पुष्पा होंडा के पहले फ्लाई ओवर के पास पिकअप संख्या यूपी 71 टी-7090 को घेरकर उसमें बैठे तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों ने अपने नाम राजा उर्फ मुन्ना शाह पुत्र स्व. कल्लू शाह निवासी खजुहा बड़े बाजार थाना बिंदकी जनपद फतेहपुर, मो. चॉद पुत्र स्व. जुम्मन निवासी 132/159 बाबूपुरवा थाना बाबूपुरवा कानपुर नगर और पप्पू नेपाली पुत्र स्व. भोला निवासी काला बच्चा बिल्डिंग बाबूपुरवा थाना बाबूपुरवा कानपुर नगर बताया।

इसके बाद तीनों के खिलाफ चकेरी थाना में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया और अभियुक्त मुन्ना शाह के कब्जे से एक तमंचा 315 बोर व दो कारतूस बरामद किये गये। रात में एक पुराने मुकदमे में मो. चांद से पूछताछ की गयी तो उसने चोरी की बात कबूल कर ली। इसके बाद चोरी का माल बरामदगी करने के लिए रविवार की भोर पुलिस ने मो. चांद के बाबूपुरवा स्थित आवास पहुंचकर अभियुक्ततों की निशानदेही पर चोरी का माल बरामद किया।

इसके बाद पुलिस टीम जब वापस आ रही थी तभी सीओडी पुल से रामादेवी की तरफ आगे दुर्गा माता मंदिर से लगभग पचास मीटर की दूरी पर अचानक उनकी जीप बंद हो गयी। जीप को सही करने के दौरान मौका पाकर मुन्ना शाह और मो. चांद ने चौकी प्रभारी अहिरवां की बेल्ट पर झपट्टा मारकर उनकी सरकारी पिस्टल छीन ली और जीप से कूदकर जीटी रोड के उत्तर की ओर स्थित झाड़ियों की तरफ भागे।

चौकी प्रभारी रामादेवी व अन्य मौजूद पुलिसपार्टी ने उनका पीछा किया। इस दौरान मुठभेड़ में दोनों बदमाश दाहिने पैर में पुलिस की गोली लगने से घायल होकर गिर गये। पुलिस ने उन्हें पकड़कर सरकारी पिस्टल बरामद की। घायल बदमाशों को पुलिस अभिरक्षा में कांशीराम अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।

इंस्पेक्टर रणजीत राय ने बताया कि मुन्ना शाह पूर्व में कई जनपदों से चोरी व अन्य मामलों में जेल जा चुका है। वह अपने अन्य साथियों के साथ हाईवे पर सवारियों को बैठा कर तमंचे से धमका कर लूट की चौबीस वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल कर चुका है। तीनों अभियुक्तों के खिलाफ जनपद व गैर जनपद के विभिन्न थानों में चोरी व लूट के मुकदमे पंजीकृत हैं।


Share it
Top