प्रदेश सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये दुराचार के आरोप,मंत्री ने ट्वीट कर आरोप को बेबुनियाद बताया

प्रदेश सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये दुराचार के आरोप,मंत्री ने ट्वीट कर आरोप को बेबुनियाद बताया


-

-कोर्ट ने अभी मुकदमा दर्ज करने का नहीं दिया आदेश

लखनऊ। लखनऊ के सीजेएम कोर्ट में एक महिला ने वरिष्ठ भाजपा नेता और प्रदेश सरकार के मंत्री पर रेप का आरोप लगाते हुए मुकदमा पंजीकृत करने को अर्जी दी है। प्रदेश सरकार के मंत्री द्वारा 'बेबुनियाद आरोप' का ट्वीट किए जाने के बाद मामला ज्यादा गरम हाे गया। प्रदेश सरकार के मंत्री ने शनिवार को रात्रि 10 बजे ट्वीट किया कि सीजीएम कोर्ट, लखनऊ में मेरे खिलाफ दिए गये प्रार्थनापत्र में लगाये गए आरोप पूर्णतया मिथ्या व बेबुनियाद हैं। इसकी जैसी चाहे जांच करा ली जाए।

महिला ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से सीजेएम कोर्ट में अर्जी लगाते हुए उत्तर प्रदेश के एक मंत्री और उनके दो लोगों पर रेप का आरोप लगाया है। महिला ने पत्र में लिखा है कि उसको बहला-फुसला दुराचार किया गया। इस मामले में ही भाजपा नेता की ओर से सीजेएम कोर्ट को जवाब भेजते हुए आरोपों को गलत बताया गया है।

वजीरगंज थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने बताया कि रविवार की सुबह तक सीजेएम कोर्ट का कोई आदेश नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि अगर महिला के साथ कोई घटना हुई है तो उसको सबसे पहले पुलिस के पास आना चाहिए। फिर अगर पुलिस मुकदमा पंजीकृत नहीं करती तो सीजेएम कोर्ट जाना चाहिए था। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, वह महिला थाने नहीं आयी। फिलहाल सीजेएम का आदेश मिलने पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया जाएगा।

Share it
Top