लखनऊ : सर्राफ से छह किलो चांदी और दो सौ ग्राम सोना लूटा, आंख में मिर्च पाउडर का स्प्रे मारकर छीन ले गए बैग

लखनऊ :  सर्राफ से छह किलो चांदी और दो सौ ग्राम सोना लूटा, आंख में मिर्च पाउडर का स्प्रे मारकर छीन ले गए बैग

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के वृंदावन कॉलोनी के पास कार सवार बदमाशों ने फायरिंग कर सर्राफ से करीब 10 लाख रुपये का सोना-चांदी लूट लिया। विरोध करने पर बदमाश आंख में मिर्च पाउडर का स्प्रे कर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने काफी छानबीन की, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लगा। पुलिस चारों तरफ के रास्तों पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है। वारदात में तीन युवकों के साथ एक महिला भी शामिल थी, जिसकी वजह से किसी नए गैंग के दस्तक देने की आशंका जताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार, वृंदावन निवासी दिलीप कनौजिया की निलमथा में नैना ज्वैलर्स के नाम से जूलरी शॉप है। वह दुकान बंद करके स्कूटी से घर जा रहे थे। दिलीप के मुताबिक वह निलमथा से वृंदावन की ओर जाने वाले फ्लाइओवर से नीचे उतरे तो सामने खड़ी सफेद रंग की इंडिगो कार सवारों ने रुकने के लिए आवाज दिया। लेकिन वह अनसुना करके आगे बढ़े इतने में कार सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दी। गोली की आवाज सुनकर उन्होंने स्कूटी की स्पीड बढ़ा दी। इतने में बदमाशों ने ओवरटेक करके उनकी स्कूटी में टक्कर मार दी। टक्कर लगने से वह स्कूटी सहित रोड पर गिरे तो कार से असलहे से लैस तीन युवक और एक महिला बाहर आई। युवक उनका बैग छीनने का प्रयास करने लगे। विरोध करने पर उनकी महिला साथी ने दिलीप की आंख में मिर्च पाउडर का स्प्रे डाल दिया।

मिर्च पड़ते ही वह आंख पकड़कर चिल्लाने लगे इतने में बदमाश बैग छीनकर फरार हो गए। बैग में छह किलो चांदी और दो सौ ग्राम सोने के जेवर थे। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पीजीआई पुलिस ने चारों तरफ घेराबंदी करके बदमाशों को दबोचने का प्रयास किया, लेकिन उनका सुराग नहीं लगा। दिलीप ने पुलिस को बताया कि आंख में मिर्च पड़ने की वजह से वह कार का नंबर नहीं देख पाए। इंस्पेक्टर पीजीआई अशोक कुमार सरोज का कहना है कि वृंदावन कॉलोनी के चारों तरफ रास्तों पर लगे सीसीटीवी कैमरों का फुटेज निकाला जा रहा है। आशंका है कि वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश रायबरेली रोड की ओर भागे होंगे। उन्होंने बताया कि हाई-वे पर टॉल प्लाजा के कैमरे भी चेक किए जा रहे हैं।

राजधानी में लूट की पहली वारदात है, जिसमें बदमाशों के साथ महिला शामिल है। मामले की जानकारी पाकर एएसपी उत्तरी पूर्णेंदु सिंह, सीओ क्राइम ब्रांच दीपक सिंह, सीओ कैंट, सीओ मोहनलालगंज और कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। अफसर बदमाशों का रूट मैप तैयार करने के साथ ही आशंका जता रहे हैं कि महिला अपराधियों को साथ लेकर वारदात करने वाला नया गैंग राजधानी में पैर पसार रहा है। क्राइम ब्रांच की टीम प्रदेश के उन गैंगों का पता लगाने में जुट गई है जिसमें महिलाएं शामिल हैं।

Share it
Top