ईवीएम में गड़बड़ी गंभीर मामला, समाधान तलाशे आयोग: मायावती

ईवीएम में गड़बड़ी गंभीर मामला, समाधान तलाशे आयोग: मायावती


लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने लोकसभा चुनाव के पहले चरण में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी की शिकायतों को गंभीर मामला बताते हुए चुनाव आयोग से इसका समाधान निकालने की अपील की है।

सुश्री मायावती ने शुक्रवार को कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के आठ लोकसभा क्षेत्र में कल हुये मतदान के दौरान ईवीएम मशीनों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पक्ष में आई गड़बड़ी गंभीर मामला है। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की कि वह इन अनियमितताओं का संज्ञान लेकर इसका समाधान निकाले ताकि अगले चरणों में लोगों को ऐसी कोई शिकायत नहीं मिले।

उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत के चुनावी दौरे पर उन्हें खबर मिली कि पुलिस और प्रशासन अपनी ताकत का दुरूपयोग कर रहा है तथा अनेकों बूथों में ईवीएम में गड़बड़ी पाई गई, जिसका नतीजा था कि बटन तो हाथी का दबाया जा रहा था लेकिन वोट कमल (भाजपा) पर पड़ रहा था।

बसपा ने मामले को मुख्य चुनाव के संज्ञान में डाला कि ईवीएम में पाई गड़बड़ी इतनी गम्भीर थी कि लगातार एक के बाद एक वोट हाथी चुनाव चिन्ह पर डाले जा रहे थे पर वो कमल (भाजपा के चुनाव चिन्ह) पर पड़ रहे थे।

इस तरह की एक घटना जो मीरापुर विधानसभा की कसौली बूथ नं 16, जो बिजनौर लोकसभा क्षेत्र लेकिन जिला मुजफ्फरनगर में आता है, में भी हुई। इस घटना को देश के सभी मीडिया चैनलों ने दिखाया है। बूथ में मौजूद सरकारी पर्यवेक्षकों से ने माना कि मशीन में गड़बड़ी है।

उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान कई जगहों पर पुलिस बल का उपयोग करके दलित समाज के लोगों को पोलिंग बूथ पर पहुँचने से रोका गया। यहाँ तक कि लाठी, डंडों के साथ-साथ हवाई फायरिंग का भी इस्तेमाल किया गया। इसकी सूचना प्रशासन और पुलिस अधिकारियों को दी गयी, लेकिन उसका कोई असर नहीं पड़ा और मतदान प्रभावित हुआ।

Share it
Top