मॉक ड्रिल: भूकंप के बाद होटल में लगी आग से मची भगदड़

मॉक ड्रिल: भूकंप के बाद होटल में लगी आग से मची भगदड़


आपदा प्रबंधन की टीम ने लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला

गोरखपुर। शहर के अति व्यस्त इलाके गोलघर में बुधवार सुबह होटल क्लार्क में भूकंप आने के बाद गैस रिसाव से आग लग गई। इससे वहां मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई। लोग इधर-उधर भागने लगे। होटल के लोगों ने तत्काल इसकी सूचना आपदा प्रबंधन को दी। सूचना मिलते ही उनकी टीम वहां पहुंचकर राहत और बचाव कार्य में जुट गई। इसके बाद होटल की ऊपरी मंजिल पर मलबे में दबे लोगों को सकुशल निकाला गया।

बुधवार की सुबह दस बजे से आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की तरफ से आयोजित मॉक ड्रिल कार्यक्रम 'विश्वास' में जिलाधिकारी कार्यालय और होटल प्रबंधन से सूचना मिलने पर सबसे पहले एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और होटल में फंसे लोगों को बाहर निकाला। इसके बाद आग पर काबू पाने के लिए अग्निशमन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। एनडीआरएफ के जवानों ने घटना में घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल के रास्ते में कोई बांधा न आए इसके लिए यातायात पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाया। सकुशल राहत कार्य के चलते घटना में किसी की जान नहीं गई।

मॉक ड्रिल के समापन के बाद पूरे अभियान के दौरान किए गए कार्यों की समीक्षा और आगे ऐसे आयोजन करने पर विचार किया गया, ताकि आपदा के समय लोग जागरूक रहें। इस पूरे आयोजन की अध्यक्षता सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट नजनरल और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रवींद्र प्रताप शाही ने की।

इस दौरान एनडीआरएफ के उप महानिरीक्षक आलोक कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी विधान जायसवाल, एनडीआरएफ के डिप्टी कमांडेंट पीएल शर्मा, सीएमओ एस के तिवारी, पुलिस अधीक्षक दक्षिण विपुल कुमार श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में एनसीसी कैडेट और छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

Share it
Top