लूट के दौरान स्पोर्ट्स फैक्ट्री संचालक की गला दबाकर हत्या, घर में मिला शव

लूट के दौरान स्पोर्ट्स फैक्ट्री संचालक की गला दबाकर हत्या, घर में मिला शव


मेरठ। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में रविवार की देर रात एक स्पोर्ट्स फैक्ट्री संचालक की उसके ही घर में गला दबाकर निर्ममता पूर्वक हत्या कर दी गई। सोमवार की सुबह घर पहुंची फैक्ट्री की लेबर ने घर का नजारा देखा तो उनके होश उड़ गए। जानकारी के बाद एसपी सिटी सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। घटनास्थल के हालात को देखते हुए प्रथम दृष्टया प्रतीत हो रहा है कि युवक की हत्या लूटपाट का विरोध करने पर की गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।रोहटा रोड सैनिक विहार गली नंबर 6 में अजय नाम का युवक रहता था।

अजय ने अपने जीजा देशराज पहलवान के साथ पार्टनरशिप में अपने मकान में ही बैडमिंटन बनाने की फैक्ट्री लगाई हुई थी। सोमवार की सुबह मजदूर फैक्ट्री में काम करने पहुंचे तो घर का दरवाजा खुला हुआ था। भीतर जाकर देखा तो कमरे में अजय का शव पड़ा था और सेफ का ताला टूटा हुआ था। जिसके बाद फैक्ट्री के मजदूरों के होश उड़ गए। जानकारी के बाद एसपी सिटी सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। शव की जांच पड़ताल की गई तो देखा गया कि मृतक की आंख भी बाहर निकली हुई थी। वहीं कमरे का सारा सामान अस्त.व्यस्त था। पूछताछ के दौरान परिजनों ने बताया कि अजय के पिता वीर सिंह रेलवे विभाग से माल बाबू के पद से रिटायर थे। लगभग 4 वर्षों वीर सिंह की छत से गिरकर मौत हो गई थी। वही अजय का बड़ा भाई भी काफी समय पहले किसी को बिना बताए घर से चला गया था। अविवाहित अजय इस मकान में अकेला रहता था।

4 साल पहले अजय की बहन अनीता अपने पति देशराज और 3 साल की बेटी के साथ अजय के घर आकर रहने लगी थी। बताया जाता है कि अजय की बहन और जीजा रविवार को ही घूमने के लिए हरिद्वार गए थे। पड़ोसियों के मुताबिक अजय का एक पालतू कुत्ता भी है जो किसी भी अनजान व्यक्ति को घर में दाखिल नहीं होने देता था। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर अज्ञात हत्यारे घर में कैसे दाखिल हुए। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस संपत्ति के लिए हत्या या लूटपाट के दौरान हत्या दोनों ही एंगल पर जांच में जुटी है।

Share it
Top