कांग्रेस का सिपाही हूं, धौरहरा से ही लड़ूंगा : प्रसाद

कांग्रेस का सिपाही हूं, धौरहरा से ही लड़ूंगा : प्रसाद



लखीमपुर खीरी।गांधी परिवार के नजदीकी पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के अटकलों को विराम देते हुये शनिवार को कहा कि वह कांग्रेस के सिपाही हैं और आजीवन इसी पार्टी के रहेंगे।

श्री प्रसाद ने यहां पत्रकारों से कहा कि वह धौरहरा लोकसभा सीट छोड़कर कहीं नहीं जा रहे हैं। जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुये पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उनको धौरहरा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने की अनुमति दे दी है।

उन्होंने कहा कि धौरहरा उनका सिर्फ चुनाव क्षेत्र ही नहीं, उनका परिवार भी है। पार्टी आलाकमान ने धौरहरा की जनता की भावनाओं का सम्मान किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि भाजपा में शामिल होने की अटकलें बेबुनियाद हैं। उन्होंने कभी भी कांग्रेस को छोड़ने के बारे में नहीं सोचा। वह कांग्रेस के सिपाही हैं और आगे भी रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में केन्द्रीय मंत्री रहे श्री प्रसाद पिछले दो लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर धौरहरा से किस्मत आजमा चुके हैं। कांग्रेस की पहली सूची में धाैरहरा से जितिन का नाम होने के बावजूद पिछले कुछ समय से उनके लखनऊ से चुनाव लड़ने की चर्चाओं ने जोर पकड़ा था। इससे उनके समर्थक भड़क गये थे और उनके कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने की अटकलें लगायी जाने लगी थीं। श्री प्रसाद ने हालांकि इस बारे में पूछने पर कहा था कि वह काल्पनिक सवालों का जवाब देना पसंद नहीं करते।

Share it
Top