'सराब' और 'शराब' का अंतर नफरत बढ़ाने वाले नहीं जानते..टेली-प्रॉम्पटर ने खोल दी पोल : अखिलेश


लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर यह कहते हुये निशाना साधा है कि नफरत को बढ़ावा देने वाले सराब और शराब में अंतर नहीं जानते हैं।

अखिलेश ने गुरुवार को ट्वीट किया, "आज टेली-प्रॉम्पटर ने यह पोल खोल दी कि सराब और शराब का अंतर वह लोग नहीं जानते जो नफरत के नशे को बढ़ावा देते हैं।" सपा अध्यक्ष ने लिखा, "सराब को मृगतृष्णा भी कहते हैं और यह वह धुंधला सा सपना है जो भाजपा पांच साल से दिखा रही है लेकिन जो कभी हासिल नहीं होता। अब जब नया चुनाव आ गया तो वह नया सराब दिखा रहे हैं।"

गौरतलब है कि मोदी ने मेरठ में आज एक जनसभा में सपा, राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के गठबंधन को 'शराब' बताते हुये उसे समाज और देश के लिये खतरा बताया था।

Share it
Top