मायावती के प्रधानमंत्री बनने तक महिला ने एक पैर पर खड़े होने का किया प्रण

मायावती के प्रधानमंत्री बनने तक महिला ने एक पैर पर खड़े होने का किया प्रण


बाराबंकी। लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के लिए उम्मीदवार जहां अपने क्षेत्र की जनता का दिल जीतने में लगे हैं वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अपने मनपसन्द नेता के विजयी होने के लिए तरह-तरह की कोशिश कर रहे हैं। बाराबंकी की एक ऐसी ही ग्रामीण महिला ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती के प्रधानमंत्री बनने तक एक पैर पर खड़े होने का संकल्प किया है। इसके लिए वह अखंड ज्योति जलाकर ईश्वर से प्रार्थना भी कर रही है।

बाराबंकी की आरती ने प्रण किया है कि जब तक मायावती प्रधानमंत्री नहीं बनतीं तब तक वह एक पैर पर ही खड़ी रहेगी। आरती का कहना है चाहे कुछ भी हो जाए, अपना संकल्प पूरा होने तक वह जमीन पर पैर नहीं रखेगी। अपनी मनोकामना पूर्ण होने के लिए वह ईश्वर से प्रार्थना भी कर रही है। उसने घर में कलश स्थापित किया है। वहीं, इसके समीप मायावती की तस्वीर लगायी है। साथ में डॉ.भीमराव आम्बेडकर और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की भी तस्वीर है। इसके साथ ही वहां अखंड ज्योति भी जल रही है।

महिला के इस अजब-गजब दावे को लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही है। कोई इसे सुर्खियों में आने का हथकंडा कह रहा है तो वहीं, किसी का मानना है कि यह उसकी मायावती के प्रति आस्था है। वहीं महिला के ससुर गुरुज्ञान का कहना है कि देश में आराजकता का माहौल चरम पर है। मायावती के समर्थन में हम लोग सालों से लगे हुए हैं। उन्होंने बताया कि मेरी बहू पिछले कई दिनों से एक पैर पर खड़ी है। जब लोकसभा चुनाव का परिणाम आ जाएगा और बहन जी प्रधानमंत्री बन जाएंगी, तभी बहू जमीन पर दूसरा पैर रखेगी।


Share it
Top