लोकसभा चुनाव: अंतिम दिन वीके सिंह, बंसल, डॉली ने किया नामांकन

लोकसभा चुनाव: अंतिम दिन वीके सिंह, बंसल, डॉली ने किया नामांकन


गाजियाबाद। आगामी लोकसभा चुनाव के पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद लोकसभा क्षेत्र के चुनाव क्षेत्र से मौजूदा सांसद जनरल वीके सिंह, सपा-बसपा गठबंधन के पूर्व विधायक सुरेश बंसल व कांग्रेस की डॉली शर्मा ने अपने नामांकन दाखिल कर दिए। इससे पहले तीनों ने ही हवन और पूजा अर्चना की। नामांकन के मद्देनज़र कलेक्ट्रेट परिसर में कड़े सुरक्षा बंदोबस्त थे। साथ ही प्रत्याशियों के जुलूस के कारण शहर में जाम की स्थिति बनी रही।

भाजपा के प्रत्याशी जनरल वीके सिंह ने अपने राजनगर स्थित चुनाव कार्यालय पर पहले हवन व पूजा अर्चना की और इसके बाद एक सभा की गई। सभा में भाजपा के तमाम वरिष्ठ नेता शामिल रहे और उन्होंने वीके सिंह को जिताने का आह्वान किया। हवन व पूजा अर्चना के बाद जनरल वीके सिंह जुलूस के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे और अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस अवसर पर उनके साथ प्रदेश के राज्यमंत्री अतुल गर्ग, साहिबाबाद के विधायक सुनील शर्मा,मुरादनगर के विधायक अजित पाल त्यागी, मुरादनगर के विधायक अजीतपाल त्यागी,लोनी के विधायक नंद किशोर गुर्जर, मेयर आशा शर्मा, भाजपा नेता ब्रिज पाल तेवतिया रहे।

सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सुरेश बंसल अपने अंबेडकर रोड स्थित चुनाव कार्यालय पर एकत्र हुए तथा वहां पहले हवन व पूजा अर्चना की। इसके बाद जुलूस के रूप से कलेक्ट्रेट पर पहुंचे और नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ राज्यसभा सदस्य सुरेंद्र नागर, विधान परिषद सदस्य राकेश यादव, पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा, बसपा के जिलाध्यक्ष विनोद प्रधान, समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार मुन्नी, महानगर अध्यक्ष राहुल चौधरी, रालोद के प्रवक्ता सरदार एसपी सिंह, महानगर अध्यक्ष रविंद्र चौहान समेत तमाम लोग उपस्थित थे। नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद सुरेश बंसल घंटाघर स्थित रामलीला मैदान पहुंचे और वहां पर जनसभा को संबांधित करने के बाद महानगर में जुलूस निकाला।

कांग्रेस प्रत्याशी डॉली शर्मा ने सबसे पहले अपने कार्यालय पर विधि-विधान के साथ हवन पूजा कर यज्ञ में आहुति डाली। इस दौरान काफी संख्या में पहुंचे समर्थक नारेबाजी करते रहे। उसके बाद डॉली शर्मा का काफिला अंबेडकर रोड से कुछ दूर पैदल चलकर फिर कारो द्वारा जिला मुख्यालय पहुंचा। नॉमिनेशन के लिए जिला मुख्यालय के मुख्य गेट से प्रत्याशी समेत आठ समर्थकों को पुलिस प्रशासन ने अंदर जाने दिया। डॉली शर्मा के साथ उनके पिता व कांग्रेस महानगर कमेटी के अध्यक्ष नरेन्द्र भारद्वाज के अलावा विजय चौधरी, विजेन्द्र यादव, बबली नागर और रजनी कांत शर्मा नामांकन कक्ष के अंदर दाखिल हुए।

जिलाध्यक्ष हरेन्द्र कसाना को पुलिस ने मुख्य गेट पर ही रोक दिया जिसको लेकर कांग्रेसियों में पुलिस के खिलाफ नाराजगी रही। काफी माथापच्ची के बीच नरेन्द्र भारद्वाज के आग्रह पर जिलाध्यक्ष हरेन्द्र कसाना को पुलिस ने अंदर जाने दिया। पुलिस प्रशासन ने डॉली शर्मा के साथ आए बीर सिंह चौधरी, लालमण सिंह, मायादेवी, राजाराम भारती, डा. संजीव शर्मा, सुरेन्द्र शर्मा, सुभाष शर्मा को बाहर ही रोक दिया। इस दौरान कांग्रेसियों ने डॉली शर्मा के समर्थन में नारेबाजी भी की।


Share it
Top