प्रियंका गांधी के मंच पर भी दिखा सावित्री बाई फुले का भगवा प्रेम

प्रियंका गांधी के मंच पर भी दिखा सावित्री बाई फुले का भगवा प्रेम



भदोही। भाजपा से इस्तीफा देने के बावजूद सांसद सावित्री बाई फुले का भगवा प्रेम अभी भी कायम है। पूर्वांचल के दौरे में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ बोट यात्रा और मंच पर भी वह साथ-साथ दिखी। प्रियंका गांधी जहां सामान्य हरी और लाल साड़ी में नजर आयीं वहीं सावित्री बाई फुले की पसन्द अभी भी भगवा सूट रहा।

प्रियंका गांधी ने बहराइच की सांसद और फायरब्रांड नेता सावित्री बाई फुले को अपना चुनावी साथी बनाया है। इससे वह साबित करना चाहती हैं कि वह दलितों के बेहद नजदीक हैं। सावित्री बाई फुले प्रयागराज में बोट में प्रियंका के साथ सवार हुई और भदोही आयी और मंच पर एकदम प्रियंका गांधी के बगल की कुर्सी पर बैठीं। प्रियंका गांधी इस दौरान उनसे खूब घुलती मिलती दिखी। वह चुनावी हमलों में तीखे भाषण और फिजूल के मुद्दों से बच रही हैं। वह अपने संबोधनों में खुद कह चुकी हैं कि चुनाव में फिजूल के मसलों से बचना चाहिए। वह सीधी और सरल भाषा में लोगों के बीच अपनी बात रख रही हैं।

बोट से गुजरते समय जब लोग गंगा किनारे खड़े होकर प्रियंका गांधी के नारे लगा रहे होते हैं तो वह सवाल पूछती हैं कि आपने मुझे कैसे पहचाना। बाद में दूसरी तरफ से उत्तर आने पर वह धन्यवाद देना भी नहीं भूलती। अपनी इस यात्रा में वह पूर्वांचल की संस्कृति और संस्कार का भी पूरा खयाल रखते दिखी। चेहरे पर हल्की मुस्कुराहट लोगों को प्रभावित करती दिखती है, लेकिन यह वोट में कितना परिवर्तित होगा यह चुनाव नतीजों के बाद पता चलेगा।


Share it
Top