गाजियाबाद: कड़ी सुरक्षा के बीच नामांकन प्रक्रिया शुरू

गाजियाबाद: कड़ी सुरक्षा के बीच नामांकन प्रक्रिया शुरू


गाजियाबाद। लोकसभा चुनाव को लेकर प्रशासन की तैयारी युद्धस्तर पर चल रही है। सोमवार को अधिसूचना जारी होने के बाद नामांकन पत्र खरीदने का सिलसिला शुरू हो गया। नामांकन को लेकर कलक्ट्रेट में तैयारी पूरी कर ली गई है।

सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सुरेन्द्र मुन्नी व निर्दलीय प्रत्याशी शमशेर राणा ने नामांकन पत्र खरीदा है। अभी तक समाजवादी पार्टी ने ही अपने अधिकृत प्रत्याशी के नाम की घोषणा की है जबकि भाजपा व कांग्रेस ने अभी तक अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान नहीं किया है।

लोकसभा चुनाव की तैयारियों का रंग आज जिला मुख्यालय पर देखने को मिला। कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर किसी भी वाहन चालक को पुलिस ने घुसने नहीं दिया, जिसको लेकर पुलिसकर्मियों व वाहन चालकों के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई। इस कारण से कलेक्ट्रट के बाहर जाम की स्थिति बनी रही।

उधर, प्रशासन ने नामांकन की तैयारियों के मद्देनजर बैरियर लगा दिए, जबकि सोमवार दोपहर तक कोई भी प्रत्याशी जिला मुख्यालय पर अपना नामांकन भरने नहीं गया। नामांकन कक्ष में सीसीटवी कैमरे भी लगाए गए हैं।

मुख्य गेट पर सीओ अतिश कुमार के नेतृत्व में कविनगर, सिहानीगेट, कोतवाली व विजयनगर की पुलिस ने मोर्चा संभाला हुआ। उधर कलेक्ट्रट परिसर के अंदर जाने वाले वाहनों को पुलिस द्वारा रोका जा रहा है।

दूसरी ओर अभी तक भाजपा व कांग्रेस ने अपने प्रत्याशी घोषित नहीं किये हैं। भाजपा से जहां केन्द्रीय विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह का नाम पक्का माना जा रहा है तो वहीं कांग्रेस में पूर्व सांसद सुरेन्द्र प्रकाश गोयल व एआईसीसी सदस्य डॉली शर्मा के बीच टिकट को लेकर संघर्ष चल रहा है। कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि दो दिन पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक नाम हाई कमान के पास भेज दिया था, लेकिन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के हस्तक्षेप के बाद गाजियाबाद की घोषणा होल्ड करा दी गयी।

माना जा रहा है कि कांग्रेस, भाजपा के प्रत्याशी के घोषणा के बाद अपने प्रत्याशी के नाम पर मुहर लगायेगी। चूंकि पिछले दो दिनों में भाजपा नेता पीयूष गोयल का नाम चर्चा में आया है। इसलिए माना जा रहा है कि यदि भाजपा से वीके सिंह आते हैं तो कांग्रेस से सुुरेन्द्र गोयल और यदि पीयूष गोयल आते हैं तो डॉली शर्मा बाजी मार सकती हैं। राजनीतिक क्षेत्रों में अभी अटकलों का दौर जारी है।


Share it
Top