बसपा ने दल-बदल में माहिर सोनू को बनाया सुल्तानपुर से उम्मीदवार

बसपा ने दल-बदल में माहिर सोनू को बनाया सुल्तानपुर से उम्मीदवार



सुल्तानपुर। देशभर में लोकसभा के आगामी चुनाव का बिगुल बज गया है। इस क्रम में सुल्तानपुर लोकसभा सीट का मुकाबला दिलचस्प हो गया है। दल-बदल में माहिर बाहुबली पूर्व विधायक चंद्रभह सोनू को गठबंधन की ओर से बसपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है, जबकि कांग्रेस की ओर से अमेठी के डॉ संजय सिंह ताल ठोंक रहे है।

शहर के एक गेस्ट हाउस में शनिवार को बसपा अयोध्या जोन के कोऑर्डिनेटर एवं पूर्व सांसद त्रिभुवन दत्त ने बाहुबली पूर्व विधायक चन्द्रभद्र सिंह सोनू को जिले से गठबंधन उम्मीदवार घोषित किया है। पिछले लोकसभा चुनाव के नतीजे के मद्देनजर यह फैसला किया गया है। त्रिभुवन दत्त ने कहा कि इंतजार का वक्त खत्म हो गया है। भाजपा ने जनता से वादा-खिलाफी किया है। इधर, टिकट फाइनल होने के बाद सोनू के समर्थकों में खुशी का माहौल है।

चंद्रभद्र सिंह सोनू ने साल 2002 में समाजवादी पार्टी से अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुआत की थी। साल 2002 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने इसौली सीट से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ते हुए 53270 वोट पाकर बसपा के कामिल फरोग को हराया था। फिर वर्ष 2007 में इसी सीट से सपा के टिकट पर वह विजयी हुए, इस बार उन्होंने 53 हजार 911 वोट पाकर बीएसपी के कक्कू पाण्डेय को हराया।

वर्ष 2009 में उन्होंने सपा का दामन छोड़ हाथी की सवारी कर ली। इस दौरान उपचुनाव हुआ और इसौली सीट से उन्होंने बसपा के टिकट पर कांग्रेस के जयनरायण तिवारी को धूल चटाई। फिर साल 2012 के चुनाव में उन्होंने बीएसपी को भी अलविदा कहकर पीस पार्टी के टिकट पर सुल्तानपुर सीट से चुनाव लड़ा लेकिन तीसरे स्थान पर रहे। फिर वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के समय उन्होंने भाजपा का झंडा उठा लिया। हाल ही में वो बसपा में शामिल हुए।

इधर, कांग्रेस ने राज्यसभा सदस्य डॉ संजय सिंह को मैदान में उतारा है, जो वर्ष 2014 में इसी सीट से पत्नी की जमानत नहीं बचा सके थे। इस चुनावी समर में अमेठी के डॉ. संजय सिंह पूर्वी उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी के सक्रिय होने पर अपनी जीत के लिए पूरी तरह कमर कसे हुए हैं।

Share it
Top