चार कपड़ा रंगाई फैक्ट्री सील, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने लगाया 50 हजार का जुर्माना

चार कपड़ा रंगाई फैक्ट्री सील, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने लगाया 50 हजार का जुर्माना


बागपत। उत्तर प्रदेश नियंत्रण बोर्ड की टीम ने कपड़ों की रंगाई करने वाली चार रंगाई फैक्ट्री को सील किया है। इसके साथ ही प्रत्येक फैक्ट्री पर 50-50 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। इस दौरान फैक्ट्री संचालकों से बोर्ड के कर्मचारियों से कहासुनी भी हुई।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड मेरठ कार्यालय में सहायक पर्यावरण अभियंता प्रखर कुमार व वैज्ञानिक सहायक एके मिश्रा ने टीम के साथ बागपत व बड़ौत की कुछ रंगाई फैक्ट्रियों में छापेमारी की। फैक्ट्री में मिली तमाम खामियों के बाद टीम ने गायत्रीपुरम स्थित वसीम खान की फैक्ट्री को सील कर दिया गया है। इसके अलावा प्रवीण कुमार, महेश और एक बड़ौत स्थित प्रगति रंगाई फैक्टी सील कर दिया है। इसके साथ ही प्रत्येक फैक्ट्री पर 50-50 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना जमा करने के लिए फैक्ट्री संचालकों को नोटिस जारी किया गया है। इस कार्रवाई से गुस्साए फैक्ट्री संचालकों ने टीम का विरोध भी किया, लेकिन पुलिस की मौजूदगी के चलते मामले को शांत करा लिया गया।

इस सम्बंध में सहायक पर्यावरण अभियंता प्रखर कुमार ने बताया कि इन फैक्ट्रियों से दूषित पानी खुले नालियों में निकाले जाने की शिकाययत मिली थी। फैक्ट्रियों से निकलने वाले कैमिकल युक्त पानी से भूमिगत जल के भी प्रदूषित होने की शिकायत थी। इसके बाद यह कार्रवाई की गयी है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि नोटिस सीधे बोर्ड के लखनऊ कार्यालय से भेजा जाता है और आरोपी फैक्ट्री संचालकों का फरवरी में नोटिस जारी किया जा चुका है।


Share it
Top