प्रधानमंत्री मोदी रविवार को अमेठी में, 538 करोड़ की परियोजनाओं की देंगे सौगात

प्रधानमंत्री मोदी रविवार को अमेठी में, 538 करोड़ की परियोजनाओं की देंगे सौगात



अमेठी। प्रधानमंत्री बनने के बाद अमेठी को 538 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार तीन मार्च को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का संसदीय क्षेत्र अमेठी में आ रहे हैं। उनके आने की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उधर प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर कांग्रेस के खेमे में बेचैनी बढ़ गई है।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष योगेंद्र मिश्रा ने प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर बयान देते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री चुनाव के समय आए थे और उन्होंने लम्बी-लम्बी बातें की थीं। उन्होंने कहा था अमेठी को 60 साल में गांधी परिवार ने कुछ नहीं दिया हमें 60 महीने दीजिए हम 60 महीने में इसकी तस्वीर बदल देंगे। तस्वीर बदलने में वह यहां से फूड पार्क ले गए, यहां पेपर मिल बंद किया। उन्होंने ट्रिपल आईटी बंद किया।

उधर प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर भाजपा कार्यकर्ता बेहद उत्साहित हैं। पार्टी जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि गांधी परिवार सिर्फ यहां के नाम पर सियासत करती आयी है, जनता के हित में कुछ नहीं किया।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री यहां से 538 करोड़ परियोजनाओं की सौगात देकर जाएंगे। उसमें स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया का लोकार्पण है। केंद्रीय विद्यालय का भूमि पूजन है। इसके अतिरिक्त अमेठी की एक प्रमुख समस्या बाईपास की रही है, उसका टेंडर हो चुका है, अप्रैल तक वह खुल जाएगा। इस तरह की विशेष सौगातें लेकर प्रधानमंत्री आ रहे हैं और वह अमेठी की दिशा और दशा बदलने का काम करेंगे।

पीएम मोदी के साथ रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा समेत कई एक मंत्री कार्यक्रम में शामिल होंगे।

कौहार के जिस मैदान पर प्रधानमंत्री की जनसभा होनी है वहां लगभग 50 हजार कुर्सियां लगाई गई हैं। आगे की पंक्ति में वीआईपी के लिए सोफे लगाए गए हैं। भाजपा जिलाध्यक्ष के मुताबिक प्रधानमंत्री को सुनने के लिए यहां भारी भीड़ जुटेगी।

प्रधानमंत्री सबसे पहले मुंशीगंज के कोरवा स्थित आयुध निर्माण फैक्ट्री जाएंगे यहां पर वह रूस के सहयोग से एके काश्निकोव असाल्ट राइफल के एडवांस वर्जन 103 के निर्माण का उद्घाटन करेंगे। उसके बाद प्रधानमंत्री गौरीगंज से पांच किलोमीटर दूर कौहार के मैदान पर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। यहां उनके लिए मंच तैयार किया गया है। साथ ही कौहार के मैदान में पांच हेलीपैड का निर्माण भी हुआ है।


Share it
Top