श्रद्धांजलि देने के लिए युवक ने पीठ पर गुदवाये पुलवामा शहीदों के नाम

श्रद्धांजलि देने के लिए युवक ने पीठ पर गुदवाये पुलवामा शहीदों के नाम



मेरठ। 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे के दिन जब देश के युवा प्रेम लीलाओं में डूबे थे। उसी समय आतंकियों के कश्मीर के पुलवामा में हुए हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे। युवाओं को इस घटना से सबक लेते हुए वेलेंटाइन डे को काले दिवस के रूप में मनाना चाहिए। शामली निवासी विजय राष्ट्रवादी ने शहीदों को श्रद्धांजलि देने का अनूठा तरीका अपनाते हुए अपनी पीठ पर अमर शहीदों के नाम गुदवाए हैं।

अमर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए शामली से विजय राष्ट्रीय शनिवार को मेरठ पहुंचे। विजय ने बताया कि पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों की शहादत को सलाम करते हुए उन्होंने श्रद्धांजलि देने का अनूठा रास्ता अपनाया है। विजय ने अपनी पीठ पर 82 शहीदों के नाम गुदवाते हुए शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए यात्रा शुरू कर दी है। कमिश्नरी चौराहे पर पत्रकारों से बात करते हुए विजय ने बताया कि वह बसा टीकरी स्थित शहीद अजय कुमार के घर सहित अन्य शहीदों के घरों पर भी जाएंगे। शहीदों के परिवारों से मिलकर उनके सपूत की शहादत को नमन करेंगे। इसी के साथ देश के युवाओं को देशभक्ति का संदेश देते हुए उन्हें दुव्र्यसनों से दूर रहने और देशहित के लिए काम करने के लिए जागरूक करेंगे।

वहीं हाथों में तिरंगा उठाए एक नई मुहिम पर निकले इस युवा के जज्बे को सभी ने सलाम किया। विजय ने बताया कि पाकिस्तान के नापाक इरादों को भारत के वीर जांबाज चकनाचूर कर देंगे।पाकिस्तान को भारतीय सेना के रणबांकुरों ने हमेशा ही मुहं तोड़ जवाब दिया है।


Share it
Top