छोटेलाल यादव समेत तमाम दिग्गजों ने थामा प्रसपा का दामन

छोटेलाल यादव समेत तमाम दिग्गजों ने थामा प्रसपा का दामन


हम पहले सत्ता परिवर्तन करेंगे फिर व्यवस्था: शिवपाल,


लखनऊ। सपा नेता व पूर्व दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री छोटेलाल यादव समेत तमाम दिग्गजों ने रविवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का दामन थाम लिया। छोटेलाल यादव बाराबंकी विधानसभा क्षेत्र से कई बार विधायक रह चुके हैं। इसी क्रम में राष्ट्रवादी जनतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप वर्मा व प्रदेश महासचिव जोगेंद्र सिंह ने अपने सैकड़ों समर्थकों सहित प्रसपा लोहिया में अपनी पार्टी का विलय कर प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव के नेतृत्व पर भरोसा जताया।

प्रसपा (लोहिया) के कैम्प कार्यालय में राष्ट्रीय क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल राय व अन्य 50 दलों के राष्ट्रीय अध्यक्षों के साथ समीक्षा बैठक हुई।

इस बैठक को संबोधित करते हुए प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव ने कहा कि समाज व देश के हित के बारे में हम सबको सोचना होगा। हम पहले सत्ता परिवर्तन करेंगे इसके बाद व्यवस्था परिवर्तन भी। उन्होंने यह भी कहा कि लोकतंत्र विभिन्न जाति, वर्ग व समूह के समावेश व संयोजन का विशाल मंच है। जिसकी जितनी संख्या भारी उतनी उसकी हिस्सेदारी होनी चाहिए। उन्होंने बैठक में हिस्सा ले रहे सभी दलों के प्रतिनिधियों का स्वागत किया ।

शिवपाल ने कहा कि जितने भी महान लोग हुए उन्होंने कभी पद की कामना नहीं की। गांधी, लोहिया, जयप्रकाश इसकी मिसाल हैं। प्रसपा प्रमुख ने कहा कि हम चाहते तो 2003 में मुख्यमंत्री बन सकते थे। मेरे साथ उस समय 147 विधायक थे। 2012 में भी स्थिति यही थी, लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया। हाँ, आप यह कह सकते हैं कि मेरे साथ धोखा हुआ लेकिन मैंने उससे सबक लिया।

भारतीय जनता पार्टी पर प्रहार करते हुए शिवपाल ने कहा कि जीएसटी, नोटबंदी की वजह से लोग परेशान हुए। इसी वजह से बेरोजगारी बढ़ी। मोदी साहब ने झूठ की सीमा पार कर दी। न अच्छे दिन आये न 15 लाख खाते में आये। भ्रष्टाचार लगातार बढ़ता जा रहा है। आज देश खतरे में है। देश के बहादुर जवान शहीद हुए, विदेश निति खराब है।

राष्ट्रीय क्रान्तिकारी समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं संयोजक गोपाल राय ने मोर्चा में शामिल 50 छोटे राजनैतिक दलों के राष्ट्रीय अध्यक्षों की समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि 'पूर्व में हम लोगों के साथ 45 दल थे, जिनकी संख्या आज बढ़कर 60 हो गयी। हम सभी लोग मिलकर आगामी लोकसभा व 2022 के उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सत्ता परिवर्तन मोर्चा के सभी घटक दल शिवपाल यादव के नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे।

विभिन्न दलों के पदाधिकारी गोपाल राय, राष्ट्रीय क्रान्तिकारी समाजवादी पार्टी, उपेंद्र सिंह राजपूत भारतीय किसान परिवर्तन पार्टी, प्रदीप कुमार गुप्ता, पिछड़ा जनसमाज मोर्चा, प्रदीप जयसवाल, गांधी एकता पार्टी, कन्हैया विश्वकर्मा भारतीय युवा क्रांति पार्टी, फौजी किशन लाल गौड़ सैनिक सेवा दल, नीरज राय तृणमूल कांग्रेस,कृष्णा पांडे भारतीय किसान पार्टी, डॉ. लताफत अली नेशनल लोकमत पार्टी,संजय कुमार, किसान सेवा संघर्ष मोर्चा, बृजेश सिंह मानवाधिकार मोर्चा, शशि राजभर, राष्ट्रीय पूर्वांचल एकता पार्टी,कुमार हेमंत उर्मिल भारतीय किसान यूनियन बी, सत्येंद्र चौहान, अपनी पार्टी सर्कुलर, प्रेमसागर बिन्द, भारत माता पार्टी, रामकृष्ण द्विवेदी, वतन जनता पार्टी और मोहम्मद हुसैन समेत दर्जनों लोगों ने प्रसपा की सदस्यता ग्रहण की।


Share it
Top