गाड़ी पर हिंदू युवा वाहिनी लिखकर की थी पांच करोड़ की लूट, संगठन ने बताया फर्जी

गाड़ी पर हिंदू युवा वाहिनी लिखकर की थी पांच करोड़ की लूट, संगठन ने बताया फर्जी


मेरठ। लालकुर्ती थाना क्षेत्र स्थित बेगम पुल पर मणप्पुरम फाइनेंस में गुरुवार की शाम हुई पांच करोड़ के सोने की लूट के मामले में पुलिस ने आरोपियों का पता लगा लिया है। आरोपी कंकरखेड़ा के वंडर सिटी निवासी पिता-पुत्र बताए जा रहे हैं। वहीं बदमाशों द्वारा लूट में प्रयुक्त की गई कार पर हिंदू युवा वाहिनी का स्टीकर लगा होने के बाद संगठन के सदस्यों में रोष है। संगठन ने इन लोगों को फर्जी बताया है।

हिंदू युवा वाहिनी संगठन के सदस्य शुक्रवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचे। उन्होंने अधिकारियों से मिलकर बताया कि इस घटना में शामिल आरोपित भगत सिंह तालियान से संगठन का कोई संबंध नहीं है। उन्होंने संगठन का नाम बदनाम करने पर आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। वहीं आला अधिकारियों ने संगठन के सदस्यों को आश्वस्त किया कि इस मामले में संगठन का नाम नहीं घसीटा जाएगा, क्योंकि यह पता लग चुका है कि बदमाशों द्वारा घटना में प्रयुक्त कार दिल्ली से चोरी की गई थी। इसी के साथ उस पर संगठन के नाम का स्टीकर सिर्फ पुलिस को भ्रमित करने के लिए लगाया गया था।

गौरतलब है कि गुरुवार की शाम बेगमपुल स्थित मणप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कंपनी के कार्यालय से 15 किलोग्राम सोना लूट लिया गया था। इसके बाद बदमाश फरार हो गए थे। कंपनी के जिस बैग में बदमाश सोना लेकर भागे थे, उसमें जीपीएस ट्रैकर लगा हुआ था। जीपीएस की मदद से पुलिस ने एनएच-58 बाईपास स्थित वंडर सिटी में छापा मारकर आरोपितों का पता लगा लिया, लेकिन आरोपित सोने समेत फरार हो गए। वहां से हिंदू युवा वाहिनी का स्टीकरण लगी एक कार बरामद हुई। इस कार से ही लूट की घटना को अंजाम दिया गया था।


Share it
Top