आतंकवादी अजहर मसूद के पुतले की जूतों से की सामूहिक पिटाई

आतंकवादी अजहर मसूद के पुतले की जूतों से की सामूहिक पिटाई


गाजियाबाद। पुलवामा में आत्मघाती हमला करके हमारे देश के 40 सैनिकों की हत्या करने के विरोध में आवाम का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है । मंगलवार को परमार्थ समिति के कार्यकर्ताओं ने a का पुतले की जूतों से पिटाई की। इस दौरान जो भी शख्स वहां से गुजरा उसने अजहर के पुतले को जूते मारे। इन लोगों ने आतंकवाद व पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए ।इसके अलावा सिख समाज के लोगों ने कैंडल मार्च निकाला ।

पुलवामा हमले के बाद चारों तरफ आक्रोश है। गुस्से में पागल देशवासी पाकिस्तान में बैठे आतंकवादियों को उनके अंतिम अंजाम पर पहुंचते हुए देखना चाहते हैं। इसी श्रंखला में परमार्थ समिति के कार्यकर्ताओं ने महाराजा अग्रसेन वाटिका कवि नगर के बाहर पाकिस्तान में छिपे जैश ए मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद के पुतले पर अपना गुस्सा निकाला ।समिति द्वारा वाटिका के गेट पर पुतला रखकर आने जाने वाले लोगों से यह आग्रह किया कि वह इस आतंकवादी को दो-दो जूते अवश्य मारे ।

समिति के चेयरमैन बीके अग्रवाल ने बताया कि लोग बड़ी संख्या में रुक-रुक कर अपने जूते चप्पल उतारकर पुतले की पिटाई की।उन्होंने बताया कि बाद में इस पुतले का दहन उस दिन किया जायेगा जिस दिन हमारी सेना इस आतंकवादी को मार गिरायेगी ।

सिख समाज ने नगर में कैंडिल मार्च निकालकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।मार्च बजरिया गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा की तरफ से गाजियाबाद की गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटियों के सहयोग से निकाला गया।

घंटाघर पहुंचकर शहीद भगत सिंह जी की मूर्ति पर कैंडल जलाकर शहीदों को नमन किया गया और अरदास की गई कि जिन परिवारों के साथ दुख की घड़ी आई है भगवान उनको हिम्मत दे, इतना बड़ा आघात सहने की शक्ति दे और संकल्प लिया गया कि सब एकजुट होकर देश के साथ खड़े हैं और खड़े रहेंगे, हर दुश्मन का मुंह तोड़ जवाब देने के लिए देश तैयार है। कैंडल मार्च में इंदरजीत सिंह टीटू प्रधान गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह, भाजपा नेता सरदार एसपी सिंह आदि उपस्थित थे ।


Share it
Top