चंबल की बेहतरी की हर मुमकिन कोशिश करूंगा: अखिलेश

चंबल की बेहतरी की हर मुमकिन कोशिश करूंगा: अखिलेश


इटावा । समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि चम्बल क्षेत्र से उन्हे विशेष लगाव है और वह उसकी बेहतरी के लिए हर सम्भव कोशिश करेंगे।

चम्बल की समस्याओं और चुनौतियों को लेकर भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन पर दो दशक से शिद्दत से काम कर रहे 'अवाम का सिनेमा' के संस्थापक शाह आलम ने मंगलवार को बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री से उनकी लखनऊ स्थित पार्टी दफ्तर में मुलाकात हुयी थी। श्री यादव ने उन्हे भरोसा दिलाया कि चम्बल से उनका विशेष लगाव है वे उसकी बेहतरी के लिए हर सम्भव कोशिश करेंगे।

बैठक के दौरान चंबल के क्रांतिकारी इतिहास, सिनेमा, पर्यटन सहित खूबसूरत चंबल घाटी पर संजीदगी से चर्चा हुई। इस दौरान शाह आलम ने देश के सबसे बड़े गुप्त क्रांतिकारी दल 'मातृवेदी' पर लिखी गयी अपनी पुस्तक भी उन्हें भेंट की। मातृवेदी की स्थापना चंबल के बीहड़ो में ही हुई थी। शाह आलम ने बीहड़ में करीब 2800 किलोमीटर साइकिल यात्रा के जरिए यहां के क्रांतिकारी इतिहास का दस्तावेज तैयार किया है। अखिलेश ने इस साइकिल यात्रा और दस्तावेज की न सिर्फ सराहना की बल्कि क्रांतिकारियों के इतिहास को जनता के सामने लाने के लिए कई सहयोग का भी आश्वासन दिया।

शाह आलम के प्रस्ताव पर पूर्व मुख्यमंत्री ने चंबल संग्रहालय, चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल, सुनील जाना स्कूल आफ फोटोग्राफी, चंबल जनसंसद पर चर्चा के साथ चंबल रेजीमेंट पर भी सहयोग की सहमति जताई। शाह आलम अपनी ड्रीम परियोजना चंबल यूनिवर्सिटी और चंबल रेजीमेंट के लिए साइकिल यात्रा करने वाले हैं। पूर्व सीएम ने इसमें भी सहयोग देने की बात कही है।

Share it
Top