शराब कांड: सहारनपुर में 88 तक पहुंची मृतकों की संख्या

शराब कांड: सहारनपुर में 88 तक पहुंची मृतकों की संख्या



सहारनपुर। जहरीली शराब से होने वाली मौतों का सिलसिला लगातार जारी है। सहारनपुर जनपद में अब तक 17 गांवों के 88 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें मेरठ मेडिकल काॅलेज में लाए गए छह लोगों को भर्ती करते ही डाॅक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। उधर सहारनपुर में शराब पीने से मृत लोगों की अंत्येष्टि भी की जा रही है। दूसरी ओर पुलिस प्रशासन की अवैध शराब कारोबारियों पर छापेमारी जारी है।

सहारनपुर में जहरीली शराब का कहर अभी थमा नहीं है। अस्पतालों में भर्ती गंभीर बीमारों की मौत हो रही है। रविवार दोपहर तक सहारनपुर में शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 88 तक पहुंच गई। इनमें से 24 लोगों की मौत मेरठ मेडिकल काॅलेज में हुई। मेरठ मेडिकल काॅलेज में मरे लोगों का पोस्टमार्टम मेरठ में ही कराया जा रहा है। सहारनपुर में जिला प्रशासन ने 46 शवों का पोस्टमार्टम कराया है। मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार की अगुवाई में अवैध शराब कारोबारियों पर पुलिस व आबकारी विभाग की छापेमारी लगातार चल रही है।

सामूहिक चिता जलाकर हो रहा अंतिम संस्कार

मृतकों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सहारनपुर में शवों का सामूहिक चिता सजाकर अंतिम संस्कार किया जा रहा है। गांव खेड़ामुगल में चार, गांव उमाही में नौ तथा सलेमपुर में पांच लोगों के शवों का सामूहिक चिता जलाकर अंतिम संस्कार किया गया। गांव कोलकी में शवों का अलग-अलग दाह संस्कार किया गया है। जिलाधिकारी आलोक पांडेय का कहना है कि शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। पोस्टमार्टम में आए मौत के कारणों की रिपोर्ट तैयार की जा रही है। मेरठ में जिलाधिकारी अनिल ढींगरा और डीआईजी अखिलेश कुमार ने मेडिकल काॅलेज का दौरा करके गंभीर बीमारों का हालचाल लिया और डाॅक्टरों को सही इलाज करने की हिदायत दी।


Share it
Top