सरकार बनी तो नौकरियों का होगा जातीय सर्वे..सपा सरकार के आरक्षण सम्बन्धी रोस्टर सिस्टम के खिलाफ : अखिलेश

सरकार बनी तो नौकरियों का होगा जातीय सर्वे..सपा सरकार के आरक्षण सम्बन्धी रोस्टर सिस्टम के खिलाफ : अखिलेश



लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरक्षण में रोस्टर सिस्टम लागू करने के सरकार के प्रयास की आलोचना करते हुये कहा है कि उनकी सत्ता आने पर नौकरियों के जातीय आंकड़े जारी किए जाएंगे।

अखिलेश ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा कि सपा सरकार के आरक्षण सम्बन्धी रोस्टर सिस्टम के खिलाफ है, इसका डटकर विरोध किया जायेगा। यही नहीं सपा की सरकार बनते ही जातीय आधार पर सरकारी नौकरियों के आंकड़े जारी करेगी। उन्होंने कहा कि इसका संकल्प उन्होंने कुम्भ में स्नान करने के बाद ही साधु सन्तों के सामने ले किया था।

उन्होंने भाजपा सरकार को हर मोर्चे पर असफल बताते हुये कहा कि जनता इस बार चुनाव में सत्तारूढ़ पार्टी के खिलाफ एक तरह से ​विद्रोह करेगी। किसान को सबसे अधिक संकट में बताते हुये सपा अध्यक्ष ने कहा कि उसके सम्बन्ध में किये गये वायदों में से एक भी पूरा नहीं किया गया है। कर्जमाफी में किसानों का उपहास उड़ाया गया। कुछ किसानों का तो एक रुपये से कम कर्ज माफ किया गया जबकि कई के पास तो बैंक की नोटिस आ रही है।

उन्होंने भाजपा के संकल्प पत्र के एक-एक बिन्दु का सिलसिलेवार उल्लेख करते हुये कहा कि इसमें किये गये किसी भी वायदे को पूरा नहीं किया गया। जनता इस बार भाजपा को मजा चखायेगी।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के कल पेश किये गये बजट में भी कुछ नहीं है। एक्सप्रेस—वे के लिये धन के आवंटन में भी कंजूसी की गयी है। किसानों के लिये 20 हजार करोड़ के सिंचाई फण्ड की स्थापना के ऐलान को भी पूरा नहीं किया गया। बजट तो आंकड़ों में ठीक लग रहा है लेकिन जमीनी हकीकत से काफी दूर ​है।

इस अवसर पर गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के संगठन के प्रदेश संयोजक अखिलेश पटेल, अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय छात्र संघ के उपाध्यक्ष नदीम अंसारी, पूर्व विधायक शशिबाला पुण्डीर समेत कई लोग सपा में शामिल हुये।


Share it
Top