महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारने वाली महिला के बचाव में आई जयशिव सेना

महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारने वाली महिला के बचाव में आई जयशिव सेना


गाज़ियाबाद। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारने वाली महिला पूजा शकुन पाण्डेय के पक्ष में जयशिव सेना खुलकर आ गयी है । सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित आर्यन ने इस संबंध में प्रेसवार्ता की है।

आर्यन ने कहा यह सत्य एवं विचारधारा की लड़ाई है गांधी की वजह से 20 लाख हिंदुओं की निर्मम हत्या हुई व चार लाख से ऊपर महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार हुआ । इसकी जिम्मेदारी पूरी तरह से गांधी को जाती है।

उन्होंने कहा कि गांधी ने मुस्लिमों को खुश करने के लिए हिन्दू के ऊपर अत्याचारों को बर्दाश्त किया । सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि राष्ट्र का कोई पिता नहीं हो सकता । कांग्रेस के शासन में हिंदुओं पर हमेशा अत्याचार हुए।कांग्रेस ने अपने शासन में ही गांधी को राष्ट्रपिता घोषित कर दिया गया । राष्ट्र का सपूत तो हो सकता है, परन्तु राष्ट्र का पिता नहीं हो सकता। गांधी अपने जीवन काल में सदैव हिंदू विरोधी रहे ।

आर्यन ने कहा बड़ी हैरानी की बात है कि प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री जिनका हिंदू महासभा से भी गहरा नाता है। नाथ संप्रदाय के पहले महंत दिग्विजय नाथ सन 1937 में हिंदू महासभा के प्रमुख रहे उन पर गांधी वध का भी आरोप लगा । इस कारण नौ महीने जेल में रहना पड़ा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले एक हिन्दू संत है, ऐसे में पूजा शकुन पांडे पर इस प्रकार से कार्रवाई होना पूरी तरीके से एवं अमानवीय है । प्रेस वार्ता में आचार्य दुर्गा प्रसाद शास्त्री ,जयशिव सेना की महिला महिला अध्यक्ष साध्वी प्रियंका आर्य, वरुण उपाध्याय, मीडिया प्रभारी ज्योति शर्मा आदि उपस्थित थे ।

Share it
Top