गिरफ्तार पांचों बांग्लादेशियों के संबंध देवबंद से लेकर पश्चिमी बंगाल तक

गिरफ्तार पांचों बांग्लादेशियों के संबंध देवबंद से लेकर पश्चिमी बंगाल तक


गिरफ्तार युवक बांग्लादेशियों के लिए संरक्षणदाता का काम भी कर रहे थे

गिरफ्तार बांग्लादेशियों के पास से किसी भी तरह का कोई भी वै़द्य प्रमाण पत्र, पहचान पत्र आदि नहीं मिला है : एसएसपी सहारनपुर दिनेश कुमार पी

गिरफ्तार युवक जिन लोगों के मकानो में किराए पर रह रहे थे, उनसे भी पुलिस पूछताछ करेगी और उनके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई करेगी, पुलिस इन युवकों के आतंकी संबंधों की पड़ताल करने में भी जुटी हुई है : एसएसपी

देवबंद (गौरव सिंघल)। सोमवार को देवबंद से गिरफ्तार किए गए पांचों बांग्लादेशी युवकों के तार देवबंद से लेकर पश्चिमी बंगाल तक जुड़े हुए थे। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने आज बताया कि गिरफ्तार बांग्लादेशियों के पास से किसी भी तरह का कोई भी वै़द्य प्रमाण पत्र, पहचान पत्र आदि नहीं मिला है। एसएसपी दिनेेश कुमार पी ने बताया कि गिरफ्तार युवकों में से इस्माइल पांच साल पहले देवबंद आ गया था और किराए का मकान पर कमरा लेकर रह रहा था। वह बांग्लादेश से लाई टोपियां देवबंद क्षेत्र में बेचता था। इस्माइल ने तीन साल पहले बांग्लादेश से रफीक को अपने पास बुला लिया था जो यहां आकर सिलाई का करने लगा और डेढ़ वर्ष पूर्व बांग्लादेश से मिनाज भी उनके पास देवबंद आ पहुंचा। आठ माह पहले मुनीर अहमद भी देवबंद आ पहुंचे। अहमद भी यहां आकर सिलाई का काम करने लगा। एसएसपी ने बताया कि इन युवकों ने देवबंद में अपनी गहरी पैठ बना ली थी कि वे अब बांग्लादेश से वैद्य और अवैद्य रूप से आने वाले युवकों को देवबंद में ठहराने और आश्रय देने का काम बखूबी करने लगे। एसएसपी दिनेश कुमार ने कहा कि ये युवक जिन लोगों के मकानो में किराए पर रह रहे थे, उससे भी पुलिस पूछताछ करेगी और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगी। पुलिस इन युवकों के आतंकी संबंधों की पड़ताल करने में जुटी हुई है।

Share it
Top