देवबंद: कर्ज में डूबे 42 वर्षीय होमगार्ड ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से की आत्महत्या

देवबंद:  कर्ज में डूबे 42 वर्षीय होमगार्ड ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से की आत्महत्या

-होमगार्ड शराब में बुुुरी तरह धुुत था और पिछले कुछ दिनों से डिप्रेशन में था

पुलिस ने उसके शव को पोस्ठमार्टम के लिए भेज दिया

होमगार्ड के चार बेटियां और एक नौ माह का छोटा बेटा है, उसकी पत्नी अपने बच्चों को लेकर अपने मायके गई हुई थी

देवबंद (गौरव सिंघल)। देवबंद थाना क्षेत्र के ग्राम दुगचाड़ी में 42 वर्षीय एक होमगार्ड परविंदर चौधरी ने बीती रात अपने घर पर अपनी डबल बेरल लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार होमगार्ड परविंदर घटना के वक्त बुरी तरह शराब के नशे मे धुत था।ग्राम प्रधान शिवकुमार ने बताया कि परविंदर अपने तीन भाईयों में सबसे बड़ा था। उसके पास ढाई बीघा जमीन थी और वह बैंकों और गैर सरकारी कर्ज में डूबा हुआ था। वह पिछले कुछ दिनों से डिप्रेशन में था। उसके चार बेटियां और एक नौ माह का छोटा बेटा है। उसकी पत्नी अपने बच्चों को लेकर अपने मायके गई हुई थी। पुलिस के मुताबिक परविंदर पिछले पांच दिनों से ड्यूटी पर भी नहीं गया था। खुदकुशी की सूचना मिलने पर सीओ सिद्धार्थ और मुनेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और परिजनों और ग्रामीणों से घटना की जानकारी ली। सीओ ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Share it
Top