गोरखपुर में व्यापारी पत्नी और तीन बच्चों को जहर देने के बाद ट्रेन के आगे कूदा

गोरखपुर में व्यापारी पत्नी और तीन बच्चों को जहर देने के बाद ट्रेन के आगे कूदा


गोरखपुर- उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में रविवार को सूदखोरों के कथित उत्पीडन से परेशान एक व्यापारी ने पत्नी और तीन बच्चों को जहर देकर मारने के बाद खुद ट्रेन के आगे कूद गया जिससे उसकी भी मृत्यु हो गई।

इस घटना के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला प्रशासन को परिवार के बाकी सदस्यों की हर संभव मदद करने के निर्देश दिये हैं।

पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि राजघाट क्षेत्र के हसनगंज मोहल्ले में निवासी घी और तेल के कारोबारी रमेश गुप्ता ने बैंक के अलावा सूदखोरों से काफी कर्ज ले रखा था। पहले उनका नमकीन बनाने का कारोबार था जो नुकसान के कारण बंद करना पड़ा था। बैंक और सूदखोर कर्ज की वसूली के लिये रमेश पर लगातार दबाव डाल रहे थे। रमेश के साथ कथित तौर पर अभद्र व्यवहार भी किया गया था।

उन्होंने बताया कि दो दिन पहले रमेश का घर पर विवाद भी हुआ था। रविवार को सुबह वह घर से निकल गये। रमेश के जाने के काफी देर बाद भी परिवार के लोग नहीं दिखे तो मकान के निचले तल पर रहने वाले लोग उनके यहां पहुंचे। उन्होंने उनकी पत्नी और बच्चे बेहोश पड़े थे। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तो रमेश की पत्नी सरिता, बेटी पायल और बेटे आयुष की मौत हो चुकी थी। एक अन्य बेटी रचना को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया। जहां उसकी भी बाद में मृत्यु हो गयी।

पुलिस ने बताया कि रमेश की तलाश की और उनका शव सूरजकुंड रेलवे क्रॉसिंग के पास रेल लाइन पर कटा मिला। सभी शव पोस्टमॉर्टम के लिये भेज दिए गये हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। रमेश का एक और बेटा रजत घर पर नहीं होने के कारण बच गया है।


Share it
Top