प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में जा सकते हैं पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया..बोले, जीवित रहते कभी सपा में नहीं जाऊंगा

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में जा सकते हैं पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया..बोले, जीवित रहते कभी सपा में नहीं जाऊंगा





कानपुर। पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया सपा से निष्कासन के बाद अगली पारी के लिए लगातार अपने समर्थकों के संपर्क में हैं और मशविरा कर रहे हैं। सूत्रों का मानना है कि वह प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) में जा सकते हैं।

जनता दल से राजनीतिक पारी शुरू करने वाले व पांच बार विधायक रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया को समाजवादी पार्टी ने बीते दिनों पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था। इसके बाद से ही उनकी अगली पारी के लिए राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गयी। कोई भाजपा से जोड़कर उन्हे देख रहा तो कोई प्रसपा और बसपा से। इसी को देखते हुए उन्होंने समर्थकों के बीच जाना शुरू कर दिया और अलग-अलग जगहों पर बैठक कर अगली पारी की रणनीति पर समर्थकों से मशविरा कर रहे हैं।

बेरिया का प्रयास है कि अपने प्रभाव वाले क्षेत्र में समर्थकों का पहले मन टटोला जाए, फिर इसके बाद अगली राजनीतिक पारी की शुरूआत की जाए। इससे यह माना जा रहा है कि वह अगली पारी के लिए जल्दबाजी से फैसला नहीं लेना चाहते। जबकि सूत्र बताते हैं कि शिवकुमार बेरिया प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव से लगातार संपर्क में हैं और वह प्रसपा में जा सकते हैं। पहले तो यह भी बताया जा रहा था कि नौ दिसम्बर को लखनऊ में आयोजित होने वाली रैली में वह प्रसपा में शामिल हो सकते हैं पर उनकी भाग दौड़ को देखते हुए फिलहाल संभव नहीं दिख रहा है।

कानपुर देहात के झींझक में पत्रकारों से वार्ता में शिव कुमार बेरिया ने कहा कि मुझे बिना किसी गलती के सपा से निष्कासित किये जाने के बाद कई दलों के नेताओं ने मुझसे संपर्क किया है लेकिन मैं बिना अपने साथियों की सहमति के कोई निर्णय नहीं लूंगा। पूर्व कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मैने मुलायम सिंह के साथ काम किया, उन्होंने मुझे कभी भी अपमानित नहीं किया। जब से पार्टी की कमान अखिलेश के हाथों में आई, वे मुझे लगातार अपमानित कर रहे हैं।

वहीं शिवकुमार बेरिया से जब शनिवार को बात की गयी तो बताया कि अपने समर्थकों व कार्यकर्ताओं का मन टटोल रहे हैं और जो भी फीडबैक आएगा उसी के अनुसार आगे के कदम उठाये जाएंगे। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

बताते चलें वह सपा में अनुसूचित जाति वर्ग में प्रदेश में बड़ा चेहरा थे और खासकर कानपुर नगर और कानपुर देहात में। बेरिया कानपुर नगर और कानपुर देहात से विधायक रह चुके हैं और इसी को देखते हुए प्रसपा उन्हे अपनी पार्टी में शामिल कराने की पुरजोर कोशिश में लगी हुई है।


Share it
Top