पुलिस ने मुठभेड़ में बबली कोल गैंग के इनामी डकैत गंगोलिया को दबोचा

पुलिस ने मुठभेड़ में बबली कोल गैंग के इनामी डकैत गंगोलिया को दबोचा


चित्रकूट। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों में आतंक का पर्याय बने साढ़े पांच लाख के कुख्यात इनामी डकैत बबली कोल गैंग और चित्रकूट पुलिस के बीच मानिकपुर थाना क्षेत्र के मरवरिया दाई देवी मंदिर से लगे जंगल में हुई मुठभेड़ में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। जंगल का फायदा उठाकर दस्यु बबली कोल तो भागने में कामयाब रहा, लेकिन गैंग का हार्डकोर मेंबर और पंद्रह हजार का इनामी डकैत गंगा प्रसाद उर्फ गंगोलिया पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पकड़े गये डकैत पर करीब एक दर्जन से अधिक गंभीर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा द्वारा लगातार उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों में आतंक का पर्याय बने साढ़े पांच लाख के कुख्यात इनामी डकैत बबली कोल गैंग के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। चित्रकूट पुलिस द्वारा पाठा के बीहड़ों में लगातार की जा रही काम्बिंग और मुखबिरों पर कसे जा रहे शिकंजे से दस्यु बबली कोल समेत अन्य सक्रिय दस्यु दल जान बचाने के लिए भागे-भागे फिर रहे हैं।

बुधवार की सुबह जिले के मानिकपुर इंस्पेक्टर केशव प्रसाद दुबे को मुखबिर से दुर्दांत डकैत बबली कोल के पाठा के क्षेत्र के मरवरिया दाई देवी मंदिर से पास लगे जंगल में होने की खबर मिली थी। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा को जानकारी देते हुए उन्होंने मानिकपुर थाने की फोर्स के साथ मंदिर से लगे जंगल की घेराबंदी शुरू कर दी। वहीं पुलिस के आने की भनक लगते ही दस्यु बबली कोल फायरिंग करते हुए भागने लगा। इस बीच पुलिस और दस्यु गैंग के बीच हुई मुठभेड़ में अंतरप्रांतीय डकैत बबुली कोल गैंग का हार्डकोर मेंबर एवं पंद्रह हजार के इनामी डकैत गंगा प्रसाद उर्फ गंगोलिया को पकड़ने में बड़ी कामयाबी हासिल हुई है।

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा ने बताया कि पकड़ा गया डकैत गंगा प्रसाद उर्फ गंगोलिया दस्यु बबली कोल गैंग का सक्रिय सदस्य है। इस डकैत पर उत्तर प्रदेश-मध्य प्रदेश के विभिन्न थानों में करीब एक दर्जन से अधिक संगीन आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। उन्होंने इस सफलता के लिए मानिकपुर टीम को बधाई दी है। एसपी श्री झा का कहना है कि डकैतों के खिलाफ लगातार चलाये जा रहे अभियान में चित्रकूट पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। जल्द ही पुलिस साढ़े पांच लाख के इनामी बबली कोल समेत अन्य सभी दस्यु गिरोहों का सफाया कर धर्म नगरी चित्रकूट को कई दशकों से चली आयी दस्यु समस्या से निजात दिलायेगी।


Share it
Top