शिवपाल के अलग पार्टी के गठन से सपा पर फर्क नहीं : मधुर

शिवपाल के अलग पार्टी के गठन से सपा पर फर्क नहीं : मधुर



इलाहाबाद । समाजवादी पार्टी (सपा) ने कहा कि शिवपाल सिंह यादव के पार्टी छोड़कर अपनी अलग पार्टी गठन करने से किसी प्रकार का फर्क पड़ने वाला नहीं है। जिला मीडिया प्रभारी दान बाहदुर सिंह 'मधुर' ने मंगलवार को कहा कि शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के गठन की रूपरेखा तो 2017 के चुनाव से पहले ही तैयार कर लिया था जिसे अमलीजामा अब पहनाया है। शिवपाल को अलग पार्टी बनाने की आवश्यकता क्यों पड़ी यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है, यह जगजाहिर है। उनके अलग पार्टी के गठन कर लेने से सपा पर कोई असर नहीं पड़ने वाला।

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के समाजवादी सेक्युलर मोर्चा से जुडने को लेकर उन्होंने कहा कि यह बातें कभी सच नहीं हो सकती। श्री यादव ने सपा को सींच कर आज वट वृक्ष बनाया है जिसकी छांव में लोगों को सुकून मिल रहा है, वह ऐसा कतई नहीं करेंगे। पार्टी अपने कार्यकर्ता और पदाधिकारियों का बराबर सम्मान करती आयी है और हमेशा करती रहेगी।

मधुर ने कहा कि मुलायम सिंह यादव और कई दिग्गज नेताओं के लंबे संघर्ष के परिणाम का फल है "सपा", इसकी जड़ें इतनी कमजोर नहीं है कि किसी एक तने के टूटने से वह डगमगा जायेगी। आज लोगों का स्वार्थ सिर चढ़कर बोल रहा है इसलिए कोई अपनी पार्टी छोड़कर किसी दूसरी में शामिल हो रहा है तो कोई उसे छोड़कर किसी अन्य पार्टी में। कोई अपनी खुद की पार्टी बना रहा है। आज हर आदमी स्वच्छंद है जिसको जिधर अपना हित दिखता है उधर की राह पकड़ लेता है। किसी को बांध कर नहीं रखा जा सकता।

शिवपाल यादव के समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन करने के बाद प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर 2019 का चुनाव लड़ने पर श्री मधुर ने कहा कि समय की प्रतीक्षा करिए सभी को इसका उत्तर मिल जायेगा।


Share it
Top