भारत बंदःसपाइयों ने निकाली अर्थी, फूंका पीएम का पुतला

भारत बंदःसपाइयों ने निकाली अर्थी, फूंका पीएम का पुतला


बांदा। केन्द्र में भाजपा सरकार की नाकामी, बढ़ती हुयी मंहगाई और अनियन्त्रित डीजल प्रट्रोल की कीमतों में वृद्धि के विरोध में सोमवार को कांग्रेस, लेफ्ट डीएमके, सपा और बसपा समेत 21 पार्टियों द्वारा भारत बंद के आह्वान पर बांदा में भी व्यापक असर दिखाई पड़ा। कांग्रेस और सपा ने अलग अलग प्रदर्शन कर बाजार बंद करायी, वहीं सपा ने मंहगाई की अर्थी निकाली और प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। कांग्रेस ने बाइक जुलूस निकालकर विरोध किया।

कांग्रेसियों ने कहा कि केन्द्र में मोदी सरकार के काल में लगातार बढती मंहगाई और इधर आसमान छूती प्रेट्रोल डीजलों की कीमतों ने आग में घी डालने का काम किया है। जिससे पूरे देश मे सरकार के खिलाफ जनाक्रोश बढ़ा है। बढ़ती हुयी डीजल प्रेट्रोल की कीमतों का विपक्षी दलों ने लगातार विरोध किया है।

सोमवार को समाजवादी पार्टी ने पूरे शहर में पैदल मार्च करके दुकाने बंद करायी। इस जुलूस में कार्यकर्ता अर्थी लेकर चल रहे थे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी कर रहे थे।

इसी तरह सपा यूथ ब्रिगेड ने मंहगाई का विरोध करते हुये प्रधानमंत्री का पुतला जलाया। जुलूस में पार्टी की महिला इकाई की सैकड़ों कार्यकर्ता भी शामिल रही। जुलूस में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष शमीम बांदवी, राजेन्द्र यादव, हसनुद्दीन सिद्दकी, लाखन सिंह, मुसीर अहमद, मदनगोपाल टंका, निर्भय सिंह मोन्टी सहित हजारो कार्यकर्ता शामिल रहे। इसी तरह कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बाइक जुलूस निकाला और चैक बाजार पहुंच कर व्यापारियों से दुकाने बंद करने की अपील की। जुलूस में पार्टी के जिलाध्यक्ष अखिलेश शुक्ला सहित सैकड़ो कार्यकर्ता शामिल रहे। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने तहसीलों में धरना प्रदर्शन भी किया।

बंद के दौरान किसी तरह की अप्रिय घटना न घटे इसके लिये प्रशासन ने पहले से ही इंतजाम कर लिये थे। इसके लिये रेलवे स्टेशन में श्रीमती थमीम अन्सारिया ए उप जिलामजिस्ट्रेट सदर रोडवेज बस स्टाप में तहसीलदार सदर बांदा अवधेश कुमार निगम और जुलूस के साथ साथ नगर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार सिंह की ड्यूटी लगायी गयी थी इन अधिकारियों के साथ पुलिस अधिकारियों की भी तैनाती की गयी थी। संपूर्ण जनपद में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये अपर जिला मजिस्ट्रेट संतोष बहादुर सिंह को जिले का प्रभारी बनाया गया। जुलूस के दौरान शहर के प्रमुख चैराहो व सार्वजनिक स्थलों में भारी पुलिस बल तैनात किया गया था।


Share it
Top