सरधना में तनावपूर्ण शांति, संगीनों के साए में हुआ छात्रा का अंतिम संस्कार

सरधना में तनावपूर्ण शांति, संगीनों के साए में हुआ छात्रा का अंतिम संस्कार

मेरठ। सरधना के रार्धना गांव में प्रेम प्रसंग के चलते जहर खाकर जान देने वाले प्रेमी युगल में से छात्रा का शव गुरुवार को देर रात पोस्टमार्टम के बाद सरधना पहुंचा। शुक्रवारी सुबह को संगीनों के साए में छात्रा का अंतिम संस्कार हुआ। उधर रात हुए बवाल के बाद कस्बा छावनी में तब्दील है। एसपी देहात कस्बे में ही डेरा डाले हुए हैं। हालांकि इसके बावजूद गांव में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है।

रार्धना निवासी कक्षा 11 की छात्रा बृहस्पतिवार को अपने प्रेमी खालिद के साथ घर में अकेली थी। इसी दौरान छात्रा के भाई ने दोनों को देख लिया, जिसके बाद छात्रा और उसके प्रेमी खालिद ने जहर खा लिया। दो संप्रदायों से जुड़ा मामला होने के चलते दोनों की मौत के बाद गांव में जमकर बवाल हुआ। बाहरी गांवों से पहुंचे युवकों ने संप्रदाय विशेष के घरों को निशाना बनाना शुरू कर दिया। एसपी देहात राजेश कुमार कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर डटे रहे। देर रात पोस्टमार्टम के बाद छात्रा के शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। सुबह करीब आठ बजे गांव के बाहर स्थित शमशान घाट में छात्रा का अंतिम संस्कार हुआ। इस दौरान ग्रामीणों की भीड़ उमड़ी रही।

वहीं, हालात को देखते हुए एसपी देहात राजेश कुमार कई सर्किल के सीओ और थानेदारों सहित फोर्स के भारी अमले के साथ मौके पर मौजूद रहे। उधर, बवाल के दौरान रात को घरों से पलायन करने वाले संप्रदाय विशेष के परिवार राजपूत समाज के आश्वासन के बाद सुबह अपने-अपने घर वापस लौट गए। हालांकि इसके बावजूद गांव में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है और इलाका छावनी में तब्दील है। उधर, युवक का शव भी कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया जाएगा।


Share it
Top