महोबा में कैदी की मौत, आक्रोशित लोगों ने किया हंगामा

महोबा में कैदी की मौत, आक्रोशित लोगों ने किया हंगामा


महोबा। उत्तर प्रदेश में महोबा के उप कारागार में आजीवन कारावास की सजा काट रहे एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत से आक्रोशित लोगों ने यहां जमकर बवाल किया और मृतक के शव को कानपुर सागर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रख जाम लगाया दिया।

पुलिस उपाधीक्षक जितेंद्र दुबे ने बताया कि सदर कोतवाली के दिसरापुर के निवासी 45 वर्षीय युवक भूप सिंह राजपूत को हत्या के एक मामले में अदालत ने एक वर्ष पहले उम्र कैद की सजा सुनाई थी। उसे महोबा के उप कारागार में निरुद्ध किया गया था।

जेलर भोला नाथ मिश्रा के अनुसार देर रात कैदी के हृदय घात का शिकार होने से एकाएक उसकी तबियत बिगड़ने पर उसे इलाज के लिए तत्काल जिला अस्पताल की आकस्मिक चिकित्सा इकाई में पहुंचाया गया। जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई जबकि मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने जेलर के इस बयान को खारिज करते हुए बताया कि जेल कर्मियों द्वारा कैदी को मृत अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया था।

पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि कैदी की मौत को लेकर जेल और अस्पताल प्रशासन के परस्पर विरोधी बयानों के साथ ही मृतक के शव में मिले चोटो के गहरे निशान से मामला तूल पकड़ गया। मृतक कैदी के साथ बुरी तरह मार पीटकर उसकी हत्या कर दिए जाने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने जेलर व जेल कर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग करते हुए पहले जिला अस्पताल में हंगामा किया तथा बाद में आजाद चौक के निकट कानपुर.सागर राष्ट्रीय राज मार्ग को जाम कर यातायात बाधित किया। जाम के कारण राजमार्ग में दो घण्टे तक आवागमन बाधित रहा इससे करीब तीन किलोमीटर तक वाहनों की कतार लग गई।


Share it
Share it
Share it
Top