धमाके के साथ कानपुर में करीब 35 फीट धंसी एक्सप्रेस रोड

धमाके के साथ कानपुर में करीब 35 फीट धंसी एक्सप्रेस रोड


कानपुर। बारिश के समय कानपुर में सड़कों का धंसना तो अब आम बात हो गयी है, लेकिन धमाके के साथ धसी एक्सप्रेस रोड से भ्रष्टाचार का फब्बारा फूट गया। करीब 35 फीट अचानक गड्ढा होने से आस-पास की इमारतें हिल गयी और लोग सहम गये। जानकारी पर पहुंचे अधिकारियों ने आस-पास बैरिकेटिंग लगाकर उस जगह पर यातायात को पूरी तरह से रोक दिया। वहीं क्षेत्रीय लोगों ने तमाम तरह के आरोप लगाकर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

शहर में रविवार को एक बार फिर भ्रष्टाचार का फुब्बारा फूट गया और शहर के सबसे व्यस्ततम इलाके एक्सप्रेस रोड़ की सड़क धसने के साथ ही गड्ढे में तब्दील हो गयी। इस सड़क में 30 से 35 फिट गहरा गड्ढा हो गया। जिसकी सूचना के कई घंटे बाद भी नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी नहीं पहुंचे। भाजपा के प्रदेश महामंत्री सलिल विश्नोई के मौके पर पंहुचने से नगर निगम व जिला प्रशासन के अधिकारियों ने सुध ली और बैरीकेटिंग लगाकर यातायात रूट को बदला गया। पार्षद अमित मल्होत्रा ने बताया कि यह सड़क अचानक धमाके के साथ धस गयी और गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। जबकि सड़क के दाईं व बाईं ओर बड़ी मार्केट बनी हुई है। हालांकि मार्केटों में बनी दुकानों की नींव तक हिल गयी।

क्षेत्रीय निवासी राज किशोर गुप्ता ने बताया की यह सड़क अचानक जोरदार धमाके के साथ धंस गयी थी जिससे एक बड़ा हादसा होने से बच गया है पर यह सड़क धसना मतलब भ्रष्टाचार का खुलासा होना है। वहीं पार्षद अमोद त्रिपाठी ने बताया कि जिस जगह सड़क धंसी है उसके पास ही पाइप लाइन कई बार लीकेज हुई है। जिसकी शिकायत होने पर जलकल एक-एक सप्ताह ठीक कराने में लगा देता था। इसके साथ ही सड़क निर्माण में भी घटिया सामग्री का प्रयोग किया गया है। जिसके चलते सड़क धंसी है और लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई होनी चाहिये।

भाजपा महामंत्री ने कहा कि इस तरह सड़क धंसने बड़ा हादसा हो सकता है। ऐसे में पूरे मामले की शिकायत जिलाधिकारी से की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जाएगी। भाजपा महामंत्री के आश्वासन पर विरोध कर लोग शांत हो सके।


Share it
Share it
Share it
Top