गोल्डन ब्वाॅय बनते ही सौरभ के गांव में जश्न

गोल्डन ब्वाॅय बनते ही सौरभ के गांव में जश्न



मेरठ/बागपत। मेरठ और बागपत जनपद की सीमा पर बसे गांव के बाशिंदों का सीना सोमवार को गर्व से फूला हुआ है। हो भी क्यों नहीं, इस गांव के 16 साल के सौरभ चौधरी जकार्ता एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जो जीत लिया। सौरभ के सोना जीतने की खबर मिलते ही गांव में जश्न शुरू हो गया। अभावों के बीच गोल्डन ब्वाॅय बनने तक का सफर सौरभ ने बहुत ही मुश्किलों से तय किया।

सोमवार को इंडोनेशिया के जकार्ता में एशियाई खेलों में मेरठ के कलीना गांव के सौरभ चौधरी ने निशानेबाजी में स्वर्ण पदक हासिल किया। एक छोटे से किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाले सौरभ का यह सफर बहुत ही मुश्किल भरा रहा है। पढ़ाई के साथ-साथ वह शूटिंग में भी दिन-रात मेहनत करता रहा। उसके परिवार ने भी बेटे को आगे बढ़ाने के लिए अपने खर्च कम करके उसे 1.10 लाख रुपये में नई राइफल खरीदकर दी।

गांव में दौड़ी खुशी की लहर

जर्काता एशियाड में निशानेबाजी में गोल्ड मेडल जीतकर सौरभ चौधरी एकाएक सुर्खियों में आ गए। इस उपलब्धि से उसके गांव में खुशी की लहर दौड़ गई और लोग बधाई देने के लिए सौरभ के घर के बाहर जमा हो गए। कलीना गांव के दीपक शर्मा ने बताया कि सौरभ का यह सफर एक संघर्ष की महागाथा है। वह प्रतिदिन मेरठ के अपने गांव से 17 किलोमीटर दूर बागपत के बिनौली स्थित वीर शाहमल शूटिंग रेंज में प्रशिक्षण प्राप्त करने जाता था। उसके पास एक बाइक तक नहीं थी और वह बस में या डग्गामार वाहनों में लटक कर शूटिंग करने जाता था। सौरभ के साथ शूटिंग सीखने वाले उसके साथ ही निशानेबाज विक्रांत, सचिन, राहुल, राजेश, दीपेंद्र का कहना है कि सौरभ के अंदर शुरू से ही एक गजब का उत्साह था। वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करता आ रहा था।

किसान परिवार से ताल्लुक रखता है सौरभ

कलीना गांव के रहने वाले सौरभ के परिवार में उसके पिता जगमोहन सिंह, मां ब्रजेश देवी, बहन साक्षी और बड़ा भाई नितिन है। उसके पिता खेती-बाड़ी का काम करते हैं और भाई नितिन पुलिस भर्ती की तैयारी में जुटा है। सौरभ ने 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में 240.7 स्कोर के साथ ना केवल स्वर्ण पदक जीता, बल्कि स्पर्धा का रिकाॅर्ड भी बनाया।

मुख्यमंत्री की घोषणा से खुशी

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सौरभ चौधरी को 50 लाख रुपये का इनाम और राजपत्रित अधिकारी की नौकरी देने की घोषणा की है। इससे गांव में खुशी की लहर दौड़ गई है। लोगों का कहना है कि अब सौरभ के परिवार के दिन फिर जाएंगे और उसकी मेहनत रंग लाई है। मुख्यमंत्री ने मेरठ के मवाना के रहने वाले रवि कुमार के एशियाड में कांस्य पदक जीतने पर 20 लाख रुपए के इनाम का ऐलान भी किया।


Share it
Share it
Share it
Top