बालिका गृह कांड : प्रियंका की बढ़ सकती है मुश्किलें

बालिका गृह कांड : प्रियंका की बढ़ सकती है मुश्किलें


देवरिया। एसआईटी की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है। परिवार के सदस्य भी बालिका गृह कांड के घेरे में आ रहे हैं। एसआईटी ने दो दिनों तक संचालिका के बेटे और बहू से लम्बी पूछताछ की है। आने वाले दिनों में बहू प्रियंका की मुश्किलें बढ़ सकती है। उनकी गाड़ी और दो वर्षो तक संस्था में शिक्षण कार्य की थी।

बालिका गृह कांड की आग में गिरिजा त्रिपाठी का पूरा कुनवा भेट चढ़ गया है। पति मोहन तिवारी, बेटी कंचनलता जिला कारागार में गिरिजा के साथ बंद है। वहीं बड़ी बेटी से गोरखपुर पुलिस ने पूछताछ की थी। बेटा प्रदीप को पांच दिनों तक कोतवाली पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। दो दिनों तक एसआईटी ने उसकी पत्नी प्रियंका को भी पुलिस लाइन में बुलाकर पूछताछ की थी। दोनों से अलग अलग पूछताछ की गई।

प्रियंका के नाम से जो कार है उसका रंग भी लाल है। जबकि 5 अगस्त की रात में पुलिस की छापेमारी में बरामद लड़कियों ने लाल, सफेद और कभी कभी काली कार आने की बात कहीं थी। इस पर पुलिस गाड़ियों की जांच कर रही थी। गाड़ियों के बारे में हाईकोर्ट ने भी पता लगाने की बात कहीं थी। इसके बाद सक्रिय हुई एसआईटी ने गाड़ी के बारे में पता लगाना शुरु कर दिया है। प्रियंका परिषदीय विद्यालय में शिक्षिका है, उनकी सांस ने बहू को अपने संस्थान में अटैच करा दिया था। दो वर्ष तक वह प्रतिदिन तक संस्था में आती रही थी। प्रियंका को बालिका गृह कांड के बारे में जानकारी है। इसी लिए एसआईटी ने प्रियंका से लम्बी पूछताछ की है।


Share it
Share it
Share it
Top